असम सरकार का फैसला, नहीं लगेंगे धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर

ज़रा सोचिए... , , रविवार , 30-04-2017


assam-loudspeaker-religious-masjid-ajan-government

जनचौक ब्यूरो

गुवाहाटी। अभी गायक सोनू निगम के मस्जिदों से अजान का विवाद समाप्त नहीं हुआ था कि इससे जुड़ा एक नया मामला सामने आ गया है। इस मामले में सीधे सरकार और प्रशासन शामिल हैं। असम के कामरूप जिले के मजिस्ट्रेट ने धार्मिक स्थलों के आस-पास ध्वनि प्रदूषण पर रोक लगाने का निर्देश दिया है। इसके तहत इलाकों को साइलेंट जोन में तब्दील कर दिया गया है। जिलाधिकारी एम अंगामुथु ने बताया कि इसमें मंदिर, मस्जिद, चर्च और गुरुद्वारा सभी धर्मों के धार्मिक स्थल शामिल हैं।

पर्यावरण संरक्षण कानून के तहत आदेश

जिला प्रशासन की ओर से शुक्रवार को जारी निर्देश में जिलाधिकारी ने राज्य ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की जिला इकाई को इन जोनों में ध्वनि प्रदूषण की हर माह रिपोर्ट देने को कहा है। आदेश में कहा गया है कि ऐसा असम सरकार के निर्देशों के तहत किया गया है। इसमें बताया गया है कि ये पर्यावरण संरक्षण कानून, 2000 के ध्वनि प्रदूषण नियम 3(2) के तहत किया गया है। इंडियन एक्सप्रेस के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक जिलाधिकारी ने राज्य की ओर से जारी अधिसूचना की अंदरूनी बातों को बताने से इंकार कर दिया लेकिन साथ ही कहा कि लाउडस्पीकर का इस्तेमाल 10 बजे रात से सुबह 6 बजे तक प्रतिबंधित है।

15 दिन के भीतर पट्टिकाएं लगाने के निर्देश

अधिसूचना के मुताबिक गुवाहाटी में पांच इलाकों को साइलेंट जोन के तौर पर चिन्हित किया गया है। इनमें सरकारी और निजी अस्पताल, शिक्षण संस्थाएं, हाईकोर्ट, जिला, सत्र न्यायालय और सीजेएम कोर्ट, सभी सरकारी दफ्तर और सभी प्रमुख और चर्चित धार्मिक स्थल शामिल हैं। धार्मिक स्थलों में मंदिर, गुरुद्वारा, मस्जिद, चर्च, मठ, बौद्धमठ, नामघरों को शामिल किया गया है। अधिसूचना में सार्वजनिक निर्माण क्षेत्र के अधिकारियों से इससे जुड़ी पट्टिकाओं को 15 दिन के भीतर लगाने का निर्देश दिया गया है। साथ ही ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से भी पूरी निगरानी रखने को कहा गया है।

ये मामला तब विवाद में आया था जब सोनू निगम ने अजान को अपनी नींद में खलल बताया था। और फिर इसको लेकर सोशल मीडिया पर जमकर चर्चा हुई थी। गायक सोनू निगम ने लिखा था कि अजान की आवाज सुनने के बाद उन्हें जगना पड़ता है इसके साथ ही उन्होंने धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकरों के इस्तेमाल पर सवाल उठाया था।   

विवाद को दावत

असम सरकार के इस फैसले के साथ ही नया विवाद खड़ा होने की आशंका पैदा हो गयी है। मसलन क्या अब संविधान में लोगों को अपने धार्मिक स्थलों पर पूजा-पाठ, अजान और नमाज पढ़ने की भी स्वंतत्रता नहीं होगी। देखने में ये एकबारगी लगता है सबके लिए उठाया गया है लेकिन जानकारों की माने तो इसके पीछे एक सांप्रदायिक मकसद भी काम कर रहा है। क्योंकि आमतौर पर मुसलमानों की मस्जिद पर लाउडस्पीकर लगाया जाता है। और उसके जरिये अजान से लेकर नमाज के वक्त पर आयतें पढ़ी जाती हैं। ये सिलसिला कोई नया नहीं बल्कि पुराने दौर से जारी है। कबीर तक ने इस पर तंज कसा है। जब उन्होंने कहा था कि काकर-पाथर जोड़ के मस्जिद लियो बनाय ता चढ़ि मुल्ला बाग दे का बहिरा हुआ खुदाय। ये कबीर की अपने तरीके से धर्मों में शामिल पाखंड पर चोट थी। इसी तरह से दूसरे धर्मों के पोंगापंथ को भी उन्होंने उजागर किया था। ऐसे में इतने पुराने मामले को किसी एक कानूनी आदेश से रोक देना विवाद को दावत देना है।

 

 










Leave your comment











mia pron khalifa :: - 12-19-2018

mia pron khalifa :: - 12-19-2018
3a4AmA Very good blog post.Really thank you! Really Cool.

chocopie :: - 12-17-2018

chocopie :: - 12-17-2018
VAhqOf That is a great tip especially to those new to the blogosphere. Short but very accurate information Appreciate your sharing this one. A must read article!

buba suba :: - 08-12-2018

buba suba :: - 08-12-2018
cwGKr3 This is a good tip particularly to those new to the blogosphere. Short but very precise info Thanks for sharing this one. A must read post!

fake view :: - 09-20-2017

fake view :: - 09-20-2017
gQ4CJ9 This website is commonly a walk-through you will find the facts it appropriate you relating to this and don at know who have to. Glimpse right here, and you can undoubtedly find out it.

work legal advice :: - 05-29-2017
Your style is very unique in comparison to other people I have read stuff from. Thank you for posting when you've got the opportunity, Guess I'll just bookmark this blog.

healthcon :: - 05-28-2017
Definitely believe that which you said. Your favorite justification seemed to be on the internet the simplest thing to be aware of. I say to you, I certainly get irked while people consider worries that they just don't know about. You managed to hit the nail upon the top and also defined out the whole thing without having side-effects , people could take a signal. Will probably be back to get more. Thanks

camera warehouse :: - 05-27-2017
I'm not sure why but this website is loading very slow for me. Is anyone else having this problem or is it a problem on my end? I'll check back later on and see if the problem still exists.

home family recipes :: - 05-26-2017
Hi there, just changed into aware of your weblog thru Google, and found that it is truly informative. I am gonna watch out for brussels. I will be grateful should you continue this in future. Numerous other people will be benefited out of your writing. Cheers!