गुजरात सरकार के अनुलोम-विलोम के जवाब में किसानों का उपवास और प्रदर्शन

आमने-सामने , , सोमवार , 19-06-2017


gujrat-yoga-ramdev-kisan-andolan

कलीम सिद्दीकी

अहमदाबाद। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस गुजरात में राजनीतिक कार्यक्रम में तब्दील हो गया है। 21 जून को पड़ने वाले इस दिवस के लिए सरकार का चार दिन का उत्सव कल रविवार से शुरू हो गया है। इस मौके पर बाबा रामदेव सरकार के मुख्य अतिथि बने हैं। लेकिन उधर, विपक्ष भी इस मौके पर पीछे नहीं रहना चाहता है। लिहाजा महाराष्ट्र और गुजरात में किसानों के आंदोलन की अगुआई करने वाले महाराष्ट्र के निर्दलीय विधायक बच्चू कडू ने इस मौके पर शिशांग गांव में किसानों के साथ उपवास का ऐलान कर दिया है। पिछड़ों के नेता अल्पेश ठाकोर ने 21 जून तक किसानों का कर्जा माफ न होने पर प्रदेश भर में प्रदर्शन की घोषणा की है।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी के साथ बाबा रामदेव। फोटो साभार: गूगल

रामदेव कराएंगे योग

गुजरात सरकार 18 जून से 21 जून तक योग दिवस मना रही है। 21 जून के समापन मौके पर योग गुरू बाबा रामदेव खुद सुबह 5 बजे अहमदाबाद के जीएमडीसी ग्राउंड पर योग कराएंगे। जिसमें गुजरात के बड़े नेताओं के अलावा हजारों लोग शामिल होंगे।

आपको बता दें कि योग दिवस की तैयारी के लिए एक महीने पहले ही पतंजलि के अधिकारी अहमदाबाद पहुंच गए थे। इन सबकी ठहरने की व्यवस्था गुजरात सरकार ने अहमदाबाद स्थित सरकारी अतिथि गृह में की है। इस बीच योग दिवस पर बाबा के साथ योग करने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का काम भी जारी है।

किसानों के उपवास के लिए जारी किया गया अपील पोस्टर। फोटो : जनचौक

किसान और विधायक करेंगे उपवास

21 जून को जब मुख्य अतिथि के तौर पर हरिद्वार से आए बाबा रामदेव लोगों को योगा सिखा रहे होंगे उसी समय महाराष्ट्र के निर्दलीय विधायक और प्रहार संस्था के अध्यक्ष बच्चू कडू शिशांग गांव में सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ उपवास कर रहे होंगे। इस उपवास में मृतक किसान रविराज जाडेजा के परिवार सहित शिशांग गाँव के सभी किसान हिस्सा लेंगे। जो सूर्योदय से शुरू होकर सूर्यास्त तक चलेगा।

प्रहार के अनुसार शिशांग गाँव के किसानों समेत अब तक 40 से अधिक गांवों के किसानों ने उपवास पर पर बैठने का ऐलान किया है। जबकि जीएमडीसी पर बाबा के साथ योग करने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशऩ चल रहा है। इस में ज्यादातर शहरी नागरिकों के भाग लेने की संभावना है। जबकि बच्चू कडू की संस्था के नेतृत्व में होने वाले उपवास में ग्रामीण, खेड़ूत समाज और दूसरे संगठनों के लोग हिस्सा लेंगे।

किसान रविराज सिंह के चचेरे भाई बलभद्र सिंह जाडेजा ने जनचौक को बताया कि उपवास के लिए उन्होंने पुलिस से इजाज़त मांगी है। जिले के गांवों में उपवास में शामिल होने के लिए उन लोगों की तरफ से पत्रिका का भी वितरण किया जा रहा है। उनका कहना है कि गुजरात के बाहर से भी किसानों के आने की संभावना है।

हालांकि पुलिस ने अभी तक बच्चू कडू को उपवास करने की इजाजत नहीं दी है। वो मामले कोई फैसला लेने की जगह टालमटोल कर रही है। लेकिन बचू कडू अपनी बात पर अड़े हुए हैं। उनका कहना है कि इजाजत मिले चाहे न मिले वो उपवास करके रहेंगे। क्योंकि किसी को शांतिपूर्ण ढंग से अपना बात कहने का अधिकार नहीं छीना जा सकता है।

किसानों ने भी बिना पुलिस की अनुमति के उपवास करने का मन बना लिया है। उपवास की तैयारी में लगे किसान नेता भारत सिंह झाला का कहना है पुलिस अनुमति दे या न दे वो उपवास पर बैठेंगे। मोदी सरकार भले ही विश्व को योग सिखा रही हो लेकिन योग की आड़ में किसानों का भोग ले रही है।

कर्ज़ माफी का वादा नहीं

इस बीच मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने बुधवार को गुजरात यूनिवर्सिटी के कन्वेंशन हॉल में मीडिया से बातचीत करते हुए किसानों के हक में हर संभव क़दम उठाने की बात कही। परन्तु उन्होंने किसानों के कर्जे माफ़ी के सवाल पर कोई वादा नहीं किया।

21 को प्रदर्शन का ऐलान

पिछड़ा वर्ग के नेता अल्पेश ठाकोर ने सरकार को चेतावनी दी है कि यदि गुजरात सरकार 21 जून से पहले क़र्ज़ माफ़ी का ऐलान नहीं करती है तो उनका मंच प्रदेश भर में 21 जून (योग दिवस) को प्रदर्शन करेगा। अल्पेश ने 8 जुलाई से आमरण अनशन की भी धमकी दी है।

इसके पहले कांग्रेस प्रदेश प्रमुख भरत सोलंकी ने भी उत्तर प्रदेश, पंजाब और महराष्ट्र की तर्ज पर गुजरात के किसानों का क़र्ज़ माफ़ करने की मांग कर चुके हैं। इस कड़ी में उन्होंने शनिवार को चक्का जाम का प्रोग्राम किया। उनका कहना है कि कर्ज माफी न होने तक आन्दोलन जारी रहेगा। सोलंकी ने कहा कि यूपीए ने किसानों के 7100 करोड़ रुपये के कर्जे को माफ किया था। मोदी सरकार को भी किसानों का कर्जा माफ़ करना चाहिए।

योग दिवस को लेकर बीजेपी की ने बड़ी तैयारी की है। फोटो साभार : गूगल

बदनाम करने की साजिश : बीजेपी

इन सब आंदोलनों की सुगबुगाहट के बीच गुजरात भाजपा के प्रवक्ता भारत पांड्या ने जनचौक से कहा कि बाबा रामदेव पूरे विश्व में योग का प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। 21 जून को पूरा विश्व एक साथ योग करेगा। ये भारत के लिए गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि सबको बाबा और पतंजलि का सहयोग करना चाहिए। 

गुजरात भाजपा के प्रवक्ता राज्य में किसानों की कोई समस्या ही नहीं मानते हैं। उनका कहना कि हमारे राज्य का कृषि विकास 11% है। कुछ लोग एजेंडे पर गुजरात को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजनैतिक कारणों से किसानों को भड़का कर एक सकारात्मक वातावरण को खराब करने का प्रयास किया जा रहा है।










Leave your comment