Tuesday, August 9, 2022

डॉ. सुनीलम

मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार ने 21 महीनों में मतदाताओं से किया एक भी वायदा नहीं किया पूरा

मध्यप्रदेश के विधानसभा के चुनाव में प्रदेश के मतदाताओं ने कांग्रेस को बहुमत दिया था। कांग्रेस की सरकार 17 दिसंबर, 2018 से 20 मार्च, 2020 तक 15 माह चली। भाजपा द्वारा की गई खरीद-फरोख्त और कांग्रेस की अंदरूनी गुटबाजी...

लखीमपुर खीरी किसान हत्याकांड में एसआईटी की रिपोर्ट के बाद गृह राज्य मंत्री को इस्तीफा देना ही होगा!

लखीमपुर खीरी किसान हत्याकांड की सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशानुसार गठित एसआईटी की रिपोर्ट आ गई है। जिसमें स्पष्ट तौर पर लिखा गया है कि अब तक की विवेचना व संकलित साक्ष्यों से यह प्रमाणित हुआ है कि अभियुक्त गणों...

मुझ पर 12 बार जानलेवा हमले हुए, पर किसी हमलावर को जेल नहीं काटनी पड़ी: डॉ सुनीलम

देशभर में सत्तारूढ़ दल का विरोध कर रहे सामाजिक कार्यकर्ताओं, राजनीतिक नेताओं, पत्रकारों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं अर्थात सार्वजनिक जीवन में सक्रिय व्यक्तियों पर आए दिन हमलों की घटनाएं अखबारों में प्रकाशित होती रहती हैं। हमलावरों को सजाएं मिलने की...

उपलब्धियों का एक साल: किसान आंदोलन बना राजनीतिक एजेंडे की धुरी

भारत की जनसंख्या 139 करोड़ है जिसने सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार साढ़े चौदह करोड़ परिवार किसान हैं, लेकिन किसानों के मुद्दे आजादी के 74 वर्ष बाद भी राजनीतिक एजेंडे का हिस्सा नहीं बने थे ।  26 नवंबर, 2020 से दिल्ली...

साबरमती आश्रम को कॉरपोरेट के हवाले कर गोडसे को स्थापित करना चाहते हैं मोदी

जब से नरेंद्र मोदी सत्ता में आए हैं तब से वे एक के बाद एक सभी संस्थाओं, विभागों, समूहों और व्यक्तियों को एक तरफ से निकम्मा साबित करने में लगे हुए हैं। दूसरी तरफ सब कुछ अडानी-अंबानी को सौंपने...

दिल्ली की सरहदों पर इतिहास रचते देश के भूमिपुत्र

यूं तो भारत में किसान आंदोलन का इतिहास आजादी के आंदोलन से साथ जुड़ा हुआ है। आजादी के बाद भी किसान आंदोलन लगातार चलते ही रहे हैं लेकिन पिछले वर्ष 26 नवंबर 2020 से शुरू होकर 26 अक्टूबर 2021...

डॉ. सुनीलम की चुनावी डायरी: क्या सोच रहे हैं उत्तर प्रदेश के मतदाता ?

पिछले दिनों मेरा उत्तर प्रदेश के 5 जिलों - मुजफ्फरनगर, सीतापुर लखनऊ, गाजीपुर और बनारस जाना हुआ। गाजीपुर बॉर्डर तो आता-जाता ही रहा हूं। यात्रा के दौरान उत्तर प्रदेश के चुनाव को लेकर तमाम लोगों से बातचीत हुई। बातचीत...

जेपी-लोहिया की विरासत को मजबूती देता किसान आंदोलन

आज समाजवादी चिंतक, प्रखर सांसद, सप्तक्रांति विचार को प्रतिपादित करने वाले,पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु की गद्दी को झकझोर देने वाले डॉ.राम मनोहर लोहिया की 54 वीं पुण्यतिथि है। कल 11 अक्टूबर को लोकनायक जयप्रकाश नारायण की 119 वी जयंती...

सवाल तो कन्हैया और जिग्नेश से भी बनता है!

कन्हैया और जिग्नेश के कांग्रेस में शामिल होने पर इतना हंगामा क्यों हो रहा है? कोई अवसरवादी कह रहा है, किसी के द्वारा दलबदलू ,सत्ता लोलुप तक कहा जा रहा है।भारतीय राजनीति में पार्टियों में शामिल होना और छोड़ना...

जेपी और अन्ना आंदोलन की तरह क्या किसान आंदोलन में सत्ता बदलने की है ताकत?

(देश के 19 विपक्षी दलों द्वारा आगामी 20 सितंबर से 30 सितंबर के बीच किसान आंदोलन के समर्थन में विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया गया है तथा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सभी विपक्षी दलों से 2024 का चुनाव...

About Me

42 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

बिहार में सियासत करवट लेने को बेताब

बिहार में बीजेपी-जेडीयू की सरकार का दम उखड़ने लगा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस दमघोंटू वातावरण से निकलने को...