Thursday, August 18, 2022

निर्मल कुमार शर्मा

आरएसएस का उग्र हिंदुत्व और दलितों की हत्या

अभी पिछले दिनों 15 मार्च की ही घटना है, जिसमें राजस्थान के पाली जिले के बारवा गांव के निवासी जितेन्द्र पाल मेघवाल, जो कि बाली नामक स्थान पर एक अस्पताल में कोशिश हेल्थ सेंटर हेल्थ सहायक के रूप में...

आखिर कब तक जेलेंस्की चढ़े रहेंगे अमेरिकी चने की झाड़ पर?

मौजूदा दुनिया के तमाम देशों के राष्ट्राध्यक्ष बने बैठे लोगों में ज्यादातर विदूषक, क्रूर, तिकड़मबाज, झूठे, जुमलेबाज, अलोकतांत्रिक, जनविरोधी, असहिष्णु, अमानवीय,अविवेकी,बर्बर,फासिस्ट, विलासी मानसिकता के हैं। इनको अपने देश की आम जनता, गरीबों, किसानों, मजदूरों, विद्यार्थियों, बेरोजगारों आदि के जीवन...

दुनिया की खपत का 1/5 ऑक्सीजन देने वाले अमेजन के जंगल बचेंगे या खत्म हो जाएंगे?

उक्त विचलित कर देनेवाले प्रश्न का उत्तर हाँ में है। यह बात मैं नहीं कह रहा हूँ, अपितु यह बात अमेजन के जंगलों के अत्यंत हतप्रभ और दुःखी कर देनेवाली दुःस्थिति के संबंध में यूनिवर्सिटी ऑफ फ्लोरिडा (University of...

यूक्रेन समस्या: कौन दोषी रूस या अमेरिका एवं उसके पिछलग्गू देश?

प्रथम विश्वयुद्ध और द्वितीय विश्वयुद्ध की विभीषिका के चलते करोड़ों निरपराध लोग मारे गए, और करोड़ों बच्चों, महिलाओं और बुजुर्गों को अपना बाकी का जीवन बेहद गरीबी, भुखमरी एवं अभाव में जीने को अभिशप्त होना पड़ा था। इन दो...

विशेष लेख: हिटलर के रास्ते पर बढ़ चले हैं मोदी!

दुनिया का क्रूरतम् तानाशाह एडोल्फ हिटलर 20 अप्रैल, 1889 को यूरोप के एक छोटे से देश ऑस्ट्रिया के एक छोटे से शहर वॉन में पैदा हुआ था। उसने द्वितीय विश्वयुद्ध में इस दुनिया में जुल्म, बर्बरता, क्रूरता और वहशीपना...

लखीमपुर कांड: आखिर क्यों नहीं है चार्जशीट में साजिश के मुख्य सूत्रधार टेनी का नाम?

दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित मीडिया प्लेटफार्मों में से एक ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कार्पोरेशन ऑफ लंदन मतलब बीबीसी के हिस्ट्री ऑफ आइडियाज सीरीज़ में दार्शनिक नाइजल वारबर्टन के अनुसार प्लेटो का कथन है कि 'सत्ता के शीर्ष पर बैठने वाले लोगों...

जयंती पर विशेष: देश को मोदी जैसा किसान विरोधी नहीं, चरण सिंह जैसा किसानों का हमदर्द प्रधानमंत्री चाहिए!

पिछले दिनों इस देश के अन्नदाताओं को दिल्ली के वर्तमान क्रूर, असहिष्णु , बदमिजाज, अमानवीय, फॉसिस्ट, तानाशाही प्रवृत्ति के निजाम के जबरन रोकने की वजह से दिल्ली में प्रवेश नहीं मिल सका। और उन्हें अपनी न्यायोचित माँगों के लिए...

काकोरी के शहीद बताते हैं कि भीख नहीं कुर्बानियों से मिली है आजादी

'कस ली है कमर अब तो,कुछ करके दिखाएंगे, आजाद  ही  हो  लेंगे, या सर  ही  कटा  लेंगे...'  ( काकोरी केस के वीर शहीदों की पुण्य तिथि के पावन अवसर पर ) ब्रिटिश साम्राज्यवादियों की गुलामी से त्रस्त और सिसकते इस देश को...

सच बोलने के गुनहगार संजीव भट!

गोधरा कांड के तुरंत बाद गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने मुख्यमंत्री आवास पर गुजरात के उच्च पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की एक महत्वपूर्ण मीटिंग की थी। उस मीटिंग में उन्होंने कहा था कि 'आप लोग हिन्दुओं...

नगालैंड हत्याकांड से नंगा हो गया ‘भारतीय गणराज्य’ का असली चेहरा

अभी पिछले 4 दिसंबर 2021 दिन शनिवार को नगालैंड राज्य के भारत-म्यांमार के एक सीमावर्ती जिले मोन के ओटिंग गांव में 21असम पैरा मिलिट्री स्पेशल फोर्स के जवानों ने अफस्पा यानी आर्म्ड फोर्स स्पेशल पॉवर एक्ट के तहत मिले...

About Me

44 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

शीर्ष पदों पर बढ़ता असंतुलन यानी संघवाद को निगलता सर्वसत्तावाद 

देश में बढ़ता सर्वसत्तावाद किस तरह संघवाद को क्रमशः क्षतिग्रस्त कर रहा है, इसके उदाहरण विगत आठ वर्षों में...