Friday, October 7, 2022

पीएम के संसदीय क्षेत्र बनारस में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को कांग्रेसियों ने दिखाए काले झंडे

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

वाराणसी। हाथरस की घटना को लेकर पूरे देश में विरोध प्रदर्शन जारी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का घेराव किया। उन्होंने स्मृति ईराना का काफिला रोक लिया। उन्हें काले झंडे दिखाए गए और चूड़ियां भेंट करने की कोशिश की। इस बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ‘हाथरस की बेटी को न्याय दो’ और ‘स्मृति ईरानी गोबैक’ के नारे भी लगाए।  

स्मृति ईरानी बनारस के दौरे पर हैं। वहां उन्हें कांग्रेसियों के विरोध का सामना करना पड़ा है। जब उनकी कार का काफिला गुजर रहा था तो सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने उसे रोक लिया। कार्यकर्ताओं को धक्के देकर पुलिस हटाने की कोशिश करने लगी तो कई लोग उनकी कार के आगे लेट गए। पुलिस ने किसी तरह से उन्हें अलग किया। कुछ दूर जाने के बाद ईरानी की कार को फिर से घेर लिया गया। इस दौरान कार्यकर्ता हाथों में काले झंडे और चूड़ियां लहरा रहे थे। साथ ही ‘हाथरस की बेटी को इंसाफ दो’, ‘स्मृति ईरानी गोबैक’ और ‘स्मृति ईरानी इस्तीफा दो’ के नारे भी लगाए गए।

कांग्रेस कार्यकर्ता अपनी बात स्मृति ईरानी से कहना चाह रहे थे। वह बार-बार कार की खिड़की की तरफ जाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें वहां से हटा दिया। बाद में एक महिला कार्यकर्ता ने स्मृति से अपनी बात रखी। उसने हाथरस पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए स्मृति से कहा। इस दौरान मास्क न लगाने को लेकर स्मृति ईरानी ने उसे टोका। बाद में उन्होंने महिला कार्यकर्ता को कार से निकाल कर एक मास्क भी दिया। महिला कार्यकर्ता ने उन्हें चूड़ियां भेंट करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने सभी को वहां से हटा दिया। कांग्रेस के कई कार्यकर्ता और नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

इस बीच पूर्व विधायक और वाराणसी के कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय राय ने इस मामले में ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है, ‘प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र बनारस में भाजपा सरकार की महिला एवं बाल विकास मंत्री @smritiirani को काला झंडा और चूड़ियां देकर कांग्रेस के सिपाहियों ने हाथरस की घटना पर संवेदनहीनता और निष्क्रियता का कारण जानने की कोशिश की मगर उन्होंने जवाब देने के बजाय भागना उचित समझा!

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

पीयूष गोयल के कार्यकाल में रेल अधिकारियों ने ओरेकल से चार लाख डालर की रिश्वत डकारी; अमेरिका में कार्रवाई, भारत में सन्नाटा

अब तो यह लगभग प्रमाणित हो गया है कि मोदी सरकार की भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेंस का दावा पूरी...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -