Tuesday, October 4, 2022

सूरत में जहरीली गैस के रिसाव से 6 मजदूरों की मौत, 25 की हालत गंभीर

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

गुजरात के सूरत में सचिन इलाक़े में स्थित विश्व प्रेम डाइंग एंड प्रिंटिंग मिल के पास टैंकर से गैस का रिसाव होने से मिल के 6 कर्मचारियों की दम घुटने से मौत हो गई है। जबकि 25 से ज्य़ादा कर्मचारियों की हालत गंभीर है। गुजरात पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की जांच कर रही है। घायलों को तत्काल प्रभाव से अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। 

जानकारी के मुताबिक विश्व प्रेम डाइंग एंड प्रिंटिंग मिल के पास टैंकर से गैस रिसाव के कारण यह हादसा हुआ। मिल के पास स्थित नाले में अज्ञात टैंकर चालक ज़हरीला केमिकल नाले में डाल रहा थाा। इस दौरान उसमें से एक जहरीली गैस का रिसाव होने लगा। इसके चलते पास ही में स्थित प्रिंटिंग मिल के कर्मचारी भी इसकी चपेट में आ गए। 

सूरत नगर निगम के प्रभारी मुख्य दमकल अधिकारी बसंत पारीक ने मीडिया को बताया है कि हादसे के समय मजदूर सचिन औद्योगिक क्षेत्र स्थित रंगाई कारखाने में सो रहे थे। उन्होंने बताया कि दमकल विभाग को सुबह क़रीब चार बजकर 25 मिनट पर घटना की सूचना मिली। जहरीला धुआं सांस लेते समय शरीर में जाने से करीब 25-26 मजदूर बेहोश हो गए थे, यह धुआं कारखाने के पास खड़े एक टैंकर से निकल रहा था।

पारीक ने आगे बताया कि, ‘‘मजदूरों को ‘न्यू सिविल हॉस्पिटल’ में भर्ती कराया गया है। उनमें से कम से कम पांच मजदूरों की अस्पताल में मौत हो गई। बाद में दमकल विभाग ने गैस का रिसाव रोकने के लिए टैंकर के ‘वॉल्व’ को बंद कर दिया।  

 इससे पहले गुजरात के अहमदाबाद में कपड़े की फैक्ट्री में केमिकल वेस्ट टैंक की सफाई के दौरान चार मजदूरों की मौत हो गई थी। यह हादसा अहमदाबाद के ढोलका स्थित चिरिपाल ग्रुप की विशाल फैब्रिक यूनिट में हुआ।

गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने ट्वीट करके कहा है कि “सूरत में गैस रिसाव से कई लोगों की मौत हो चुकी है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें और परिवारजनों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें। मैं उन लोगों के स्वास्थ्य के लिए काम करता हूं जो इस घटना में बीमार हुए हैं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जांच की मांग करते हुये कहा है कि “सूरत में हुए गैस लीक हादसे से जिनके प्रियजनों की जान गयी, उन्हें शोक संवेदनाएँ।

अन्य पीड़ितों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूँ।

भविष्य में ऐसे हादसे रोकने के लिए सही जाँच होनी चाहिए। 

(जनचौक ब्यूरो की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

कानून के शासन के लिए न्यायपालिका की स्वतंत्रता ज़रूरी: जस्टिस बीवी नागरत्ना

सुप्रीम कोर्ट की जज जस्टिस बीवी नागरत्ना ने शनिवार को कहा कि कानून का शासन न्यायपालिका की स्वतंत्रता पर बहुत...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -