Thursday, July 7, 2022

मुंबई में इंडियन नेवी के युद्धपोत INS रणवीर पर ब्लास्ट; 3 नेवी जवान शहीद, 11 घायल

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

कल मंगलवार शाम 4:45 पर मुंबई में इंडियन नेवी डॉकयार्ड पर युद्धपोत आईएनएस रणवीर के इंटरनल कम्पार्टमेंट में हुये ब्लास्ट में इंडियन नेवी के तीन जवानों की मौत हो गयी है। वहीं 11 जवानों के घायल होने की सूचना है। घायल नेवी जवानों को स्थानीय नेवल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। जबकि सभी शवों को मुंबई के जेजे हॉस्पिटल में पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

भारत के रक्षा मंत्रालय की ओर से ज़ारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि – “नौसेना डॉकयार्ड मुंबई में आज एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना में, आईएनएस रणवीर पर एक आंतरिक डिब्बे में विस्फोट के कारण नौसेना के तीन कर्मियों की मौत हो गई। जहाज के चालक दल ने तुरंत प्रतिक्रिया दी और तुरंत स्थिति को नियंत्रण में ले आया गया। कोई बड़ी सामग्री क्षति की सूचना नहीं मिली है।”

नौसेनाध्यक्ष, एडमिरल आर. हरि कुमार ने युद्धपोत आईएनएस रणवीर पर 18 जनवरी की शाम की दुर्घटना को “दुर्भाग्यपूर्ण” करार दिया है।

नौसेनाध्यक्ष एडमिरल आर हरि कुमार ने बुधवार को आईएनएस रणवीर पर मंगलवार रात मारे गए तीन नौसेना कर्मियों की मौत पर शोक व्यक्त किया।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, एडमिरल कुमार ने कहा कि सेना इस कठिन समय में मृतकों के परिवारों के साथ पूरी तरह से खड़ी है।

बताया जा रहा है कि पूर्वी नौसेना कमान में आईएनएस रणवीर नवंबर 2021 से ही तटीय इलाके में ऑपरेशनल तैनाती पर था और उसे कुछ देर बाद ही बेस पोर्ट की ओर लौटना था, तभी ये विस्फोट हुआ। ब्लास्ट होने के बाद कंपार्टमेंट में आग लग गई थी। घटना के तुरंत बाद ही बचाव कार्य शुरू किया गया। थोड़ी देर बाद ही शिप पर तैनात चालक दल के सदस्यों ने आग को काबू में कर लिया, जिससे जहाज को बहुत ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है।

बोर्ड ऑफ इनक्वायरी का आदेश

इंडियन नेवी ऑफिशियल्स के मुताबिक, INS रणवीर ईस्टर्न नेवल कमांड से क्रॉस कोस्ट ऑपरेशनल डेप्लॉयमेंट पर निकला हुआ था और जल्द ही बेस पोर्ट पर लौटने वाला था। ब्लास्ट के कारणों की जानकारी नहीं मिल सकी है। इसकी जांच के लिए एक बोर्ड ऑफ इंक्वायरी तैनात किए जाने के आदेश दिए गए हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई ने मुंबई पुलिस का हवाले से सूचना दी है कि कोलाबा पुलिस स्टेशन ने मामले में एक आकस्मिक मृत्यु रिपोर्ट (एडीआर) दर्ज़ की है । और मामले की जांच चल रही है। हालांकि धमाके की जांच सिर्फ़ नेवी ही करेगी।

इस हादसे में शहीद हुए कर्मचारियों के नाम हैं-

1) अरविन्द कुमार महतम सिंह (38) MCPOCOM सिग्नल एंड कम्युनिकेशन।

2) सुरेंद्र कुमार (47) MCPOPT स्पोर्ट्स पीटी मास्टर।

3) कृष्ण कुमार गोपीराव (46) MSPO-1 ASWI एंटी सबमरीन इंस्ट्रक्टर।

दुर्घटना में घायल हुए नेवी कर्मचारियों के नाम इस प्रकार हैं –

1) पी वी रेड्डी (23)

2) योगेश कुमार गुप्ता(36)

3) गोपाल यादव(21)

4) शुभम देव(20)

5) हरिकुमार(22)

6) शैलेंद्र यादव(22)

7) तन्मय डार(22)

8) एल सुरेंद्रजीत सिंह(39)

9) कोमेंद्र सिंह(24)

10) कपिल (21)

11) अविनाश वर्मा (22)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस घटना को “बेहद दुखद” बताया और अपनी जान गंवाने वालों के परिवार और दोस्तों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

बता दें कि आईएनएस रणवीर भारतीय नौसेना के राजपूत श्रेणी के पांच विनाशक जहाजों में से चौथा है। जहाज को 21 अप्रैल 1986 को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था। इसके हथियारों में सतह से सतह और सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइलें, विमान भेदी, मिसाइल रोधी बंदूकें, टारपीडो और पनडुब्बी रोधी रॉकेट लान्चर शामिल हैं।

(जनचौक ब्यूरो की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

हाइड्रो प्रोजेक्ट्स नहीं रुके तो होगा विधानसभा चुनावों का बहिष्कार: भगत सिंह किन्नर

शिमला। शिमला के होटल पीटर हॉफ में मंगलवार को वर्ल्ड बैंक द्वारा हिमाचल प्रदेश सरकार को 200 मिलियन डॉलर...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This