Sunday, August 14, 2022

उप चुनाव: हिमाचल में कांग्रेस और बंगाल में टीएमसी ने किया क्लीन स्वीप

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

30 अक्तूबर को तीन लोकसभा और 29 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के लिए मतगणना परिणाम आज घोषित हुये हैं। तीन लोकसभा सीटों में दादरा व नगर हवेली की सीट शिवसेना, हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट कांग्रेस और मध्य प्रदेश की खंडवा सीट भाजपा ने जीत ली है। मंडी लोकसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह जीती हैं। वहीं हिमाचल प्रदेश की तीनों विधानसभा सीटें कांग्रेस के खाते में गयी हैं। इनमें से दो सीटें पहले भी कांग्रेस के ही क़ब्ज़े में थीं, और तीसरी सीट उन्होंने भाजपा से छीनी है।

उपचुनाव के नतीजों पर हिमाचल कांग्रेस प्रमुख कुलदीप सिंह राठौर ने कहा है, “ये कांग्रेस की एकजुटता और कार्यकर्ताओं की जीत है – जय कांग्रेस-विजय कांग्रेस ।

वहीं महाराष्‍ट्र के नांदेड़ जिले के देगलूर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के जितेश अंतापुरकर 38 हजार से अधिक वोटों से चुनाव जीत गये हैं। कर्नाटक की दो विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस, दोनों के खाते में एक-एक सीट आई है। कांग्रेस ने हंगल में 7373 मतों के अंतर से जीत हासिल की। वहीं, भाजपा ने सिंडगी में 31,185 मतों से जीत दर्ज की।

वहीं राजस्थान की दो विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में से एक का परिणाम आ गया है। यहां की धरियावाड़ विधानसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार नागराज मीणा को जीत मिली है। मीणा ने 18,725 मतों के अंतर से अपनी जीत सुनिश्चित की।

वहीं पश्चिम बंगाल की चारों विधानसभा सीटों पर टीएमसी का दबदबा रहा। चार विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ने सभी सीटों पर जीत हासिल की है। यहां की दिनहाटा, शांतिपुर, खरदहा और गोसाबा विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुए थे। सभी सीटों पर दूसरे स्थान पर भाजपा रही। टीएमसी के उदयन गुहा 1.6 लाख से अधिक मतों के अंतर से जीते।

दादरा नगर हवेली लोकसभा सीट शिवसेना प्रत्याशी श्रीमती कलाबेन डेलकर ने जीती है। शिवसेना नेता संजय निरुपम ने शिवसेना की जीत को ऐतिहासिक बताया है। बिहार की कुशेश्वरस्थान सीट जनता दल यूनाइटेड जीतने में कामयाब रहा। पिछली बार भी ये सीट उनके खाते में थी। वहीं दरभंगा – जदयू प्रत्याशी अमन भूषण हजारी आगे हैं।

मेघालय की तीन विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के अंतिम नतीजे आ गए हैं। यहां एनपीपी (नेशनल पीपुल्स पार्टी) ने दो और यूडीपी ने एक सीट पर जीत हासिल की है। यूडीपी के खाते में मॉफलांग सीट आई तो एनपीपी ने मारिंगकेंग और राजबाला सीटें अपने नाम की हैं। मिजोरम उपचुनाव में एमएनएफ उम्मीदवार के लालदॉन्गलियाना ने तुइरियल सीट जीत ली है।

हरियाणा की ऐलनाबाद सीट से INLD के अभय चौटाला जीते हैं। हरियाणा की ऐलनाबाद विधानसभा सीट से INLD के उम्‍मीदवार अभय चौटाला ने 6708 वोटों से जीत हासिल की। मध्यप्रदेश की एक लोकसभा और तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुए थे। खंडवा लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर भाजपा को जीत मिली है। मध्‍य प्रदेश की जोबट विधानसभा सीट बीजेपी ने जीत ली है। यहां से भाजपा प्रत्याशी सुलोचना रावत 6080 वोटों से विजेता घोषित की गई हैं। भाजपा ने कांग्रेस से ये सीट छीनी है। मध्यप्रदेश की पृथ्‍वीपुर सीट पर भी बीजेपी ने जीत दर्ज़ की है। पृथ्‍वीपुर विधानसभा सीट पर भी बीजेपी ने 15,687 वोटों के अंतर से जीती है।

मध्यप्रदेश में उपचुनाव जीतने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि उप चुनावों के परिणाम भाजपा के लिए अभूतपूर्व हैं। हमने न केवल खंडवा लोकसभा सीट पर जीत हासिल की है बल्कि जोबट विधानसभा में भी अपनी पताका लहराई है, जहां 90 फीसदी से अधिक लोग अनुसूचित जाति से आते हैं। चौहान ने कहा कि 70 साल में भाजपा यहां केवल दो बार जीत पाई थी। ये परिणाम केंद्र और राज्य सरकार के कार्यों पर जनता की मुहर है।

बता दें कि दादरा और नगर हवेली, हिमाचल प्रदेश की मंडी और मध्यप्रदेश की खंडवा लोकसभा सीट, असम की पांच, पश्चिम बंगाल की चार, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और मेघालय की तीन-तीन, बिहार, कर्नाटक और राजस्थान की दो-दो और आंध्र प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, मिजोरम और तेलंगाना की एक-एक सीट पर हुए उपचुनाव की मतगणना हुयी है।

देश के 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश दादरा एवं नगर हवेली में तीन लोकसभा सीटों और 29 विधानसभा सीटों पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव हुये थे। जिसके परिणाम आज घोषित किये गये। तीन लोकसभा सीटों दादरा और नगर हवेली, हिमाचल प्रदेश की मंडी और मध्य प्रदेश की खंडवा सीट पर उपचुनाव हुए थे। विधानसभा उपचुनाव असम की 5, पश्चिम बंगाल की 4, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और मेघालय की 3-3, बिहार, कर्नाटक और राजस्थान की 2-2 और आंध्र प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, मिजोरम और तेलंगाना की एक-एक सीट के लिए हुआ है। इन 29 विधानसभा सीटों में से बीजेपी के पास पहले करीब आधा दर्जन सीटें थीं, वहीं कांग्रेस के पास नौ और बाकी सीटें क्षेत्रीय दलों के पास थीं।

(रिपोर्ट जनचौक पर।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

कार्पोरेट्स के लाखों करोड़ की कर्जा माफ़ी क्या रेवड़ियां नहीं हैं मी लार्ड!

उच्चतम न्यायालय ने अभी तक यह तय नहीं किया है कि फ्रीबीज या रेवड़ियां क्या हैं, मुफ्तखोरी की परिभाषा क्या है? सुप्रीम...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This