Monday, August 15, 2022

लखीमपुर नरसंहार: राहुल गांधी की अगुवाई में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति से मिलकर की अजय मिश्र की बर्खास्तगी की मांग

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में भाजपा नेता व मंत्री के बेटे द्वारा अंजाम दिये गये जनसंहार के मुद्दे पर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस का एक डेलिगेशन आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिला। कांग्रेस नेताओं ने राष्ट्रपति को लखीमपुर तिकुनिया कांड से जुड़े तथ्य और ज्ञापन सौंपे हैं। इसके साथ ही कांग्रेस नेताओं ने इस मामले में आरोपी आशीष मिश्र के पिता केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र को उनके पद से हटाने की राष्ट्रपति से मांग की है।

राष्ट्रपति से मिलने वाले कांग्रेस के डेलिगेशन में प्रियंका गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे, एके एंटनी और गुलाम नबी आजाद, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी शामिल थे।

राष्ट्रपति से मुलकात के बाद प्रतिनिधिमंडल के साथ मीडिया से बात करते हुए राहुल गांधी ने बताया कि – “लखीमपुर खीरी में पीड़ित परिवारों की मांग है कि जिसने भी उनके बेटे की हत्या करी उसे सजा मिले और यह भी कहा कि जिस व्यक्ति ने हत्या की उसके पिता देश के गृह राज्य मंत्री हैं। जब तक वह अपने पद पर हैं तब तक न्याय नहीं मिलेगा। ये बात हमने राष्ट्रपति को बताई है। हमने इस घटना की जांच सुप्रीम कोर्ट के दो मौजूदा जजों से कराने की मांग की है।”

वहीं राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बताया कि हमने राष्ट्रपति को लखीमपुर खीरी हिंसा के संबंध में सारी जानकारी दी। हमने दो मांगें उनके समक्ष रखी है। पहली-सिटिंग जज से निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। दूसरी- गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र को या तो इस्तीफा दे देना चाहिए या बर्खास्त कर देना चाहिए।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने भी मीडिया से बात की और कहा कि राष्ट्रपति ने हमको आश्वासन दिया है कि वह आज इस मामले पर सरकार के साथ चर्चा करेंगे। उनकी (केंद्रीय गृह राज्य मंत्री) बर्खास्तगी की मांग कांग्रेस की मांग नहीं है, हमारे साथियों की मांग नहीं है, यह जनता की मांग है और पीड़ित किसान परिवारों की मांग है।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

जश्न और जुलूसों के नाम थी आज़ादी की वह सुबह

देश की आज़ादी लाखों-लाख लोगों की कु़र्बानियों का नतीज़ा है। जिसमें लेखक, कलाकारों और संस्कृतिकर्मियों ने भी अपनी बड़ी...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This