Friday, December 2, 2022

अहमदाबाद : गिरफ्तारियों, रुकावटों और तमाम सरकारी बाधांओं के बीच जारी है बिलकिस बानो पदयात्रा

Follow us:

ज़रूर पढ़े

“बिलकिस बानो से माफी मांगो पदयात्रा” जो बिलकिस बानो के गांव रंधिकपुर से 26 सितंबर को शुरू होकर 4 अक्टूबर को अहमदाबाद में समाप्त होनी थी। 25/9 की रात से दाहोद जिला प्रशासन ने पहले रंधिक पुर गांव को छावनी में तब्दील कर दिया। नाकाबंदी ऐसी कि गांव से कोई न निकल पाए और न गांव में कोई घुस पाए। रंधिक पुर गांव के बाजार को उस दिन बंद कर दिया गया था।

गोधरा में 25 सितंबर को पदयात्रा के संबंध में सहयोगी संगठन भारतीय परिवार एकता ट्रस्ट द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था। पीसी के बाद रात का खाना एआईएमआईएम के पार्षद हनीफ कलंदर के घर था। सभी पदयात्री रात्रि भोज के लिए हनीफ कलंदर के घर पर थे। उसी समय रात्रि के दस बजे हनीफ कलंदर के घर दर्जनों पुलिस की गाड़ियां पदयात्रियों को गिरफ्तार करने आ गईं। संदीप पांडे और उनके साथियों के अलावा हनीफ कलंदर को पुलिस ने डिटेन कर लिया। पदयात्रियों की गिरफ्तारी से नाराज़ 1000 से 1500 लोगों ने गोधरा B डिवीजन पुलिस स्टेशन का घेराव कर दिया। जिस कारण पुलिस को सभी महिला पदयात्री और हनीफ कलंदर को छोड़ना पड़ा।

28 09 2022 04

रात को 2 बजे संदीप पांडे, कौशर अली, गोपाल कृष्ण, नरेंद्र परमार और नितेश गंगा रमानी को गोधरा से 25 किलोमीटर दूर कांकनपुर पुलिस स्टेशन ले जाया गया। सुबह 10 बजे भारतीय परिवार एकता ट्रस्ट के लोग और अहमदाबाद के कई साथी कांकनपुर पहुंच कर डिटेन साथियों के रिहाई की मांग को लेकर पुलिस स्टेशन के बाहर धरने पर बैठ गए । जिसके बाद पुलिस ने एक घंटे में छोड़ने का आश्वासन दिया। धरने के साथी  पुलिस आश्वासन के बाद गोधरा शहर चले गए जहां पूरे शहर में 5000 पत्रिकाएं बांटी। पत्रिका में लिखा था

       “बिलकिस बानो हमें माफ करो”

डेढ़ बजे के आसपास कांकनपुर से पंचमहल जिले की पुलिस ने पदयात्रियों को खेड़ा के बॉर्डर सेवालिया पर छोड़ दिया। गिरफ्तारी की आशंका के चलते पद यात्री तीन टुकड़ी में हो गए। लेकिन 2 टुकड़ी को पुलिस हिरासत में लेने में कामयाब हो गई। सेवालिया में हमें पता चला जो लोग भी हमारे लिए चाय नाश्ते , खाने और रहने की व्यवस्था कर रहे हैं, पुलिस ने उन्हें हर पर पड़ाव से डिटेन किया है।

सेवालिया पुलिस स्टेशन में हमें वो तीन लोग भी मिले जिन्होंने सेवालिया में पदयात्रियों के लिए खाने और रहने की व्यवस्था की थी।

इसी प्रकार से ठासरा और केसरा में भी पदयात्रा को सहयोग देने वालों को डिटेन किया गया था। रखियाल पुलिस को लगा पदयात्रा का समापन CAA NRC के विरुद्ध में अजीत मील में शाहीन बाग न बन जाए। बिलकिस बानो से माफी मांगो पदयात्रा कहीं अजीत मील न आ जाए, इसलिए पुलिस ने सोसायटी के चेयरमैन को बुला पहले ही धमका दिया। 25 – 26/9/2022 दो दिन 20 से 25 पदयात्रियों को रोकने और इस आंदोलन को दबाने के लिए दाहोद जिला, पंचमहल जिला, महिसागर जिला, खेड़ा जिला, अहमदाबाद ग्रामीण पुलिस, अहमदाबाद शहर पुलिस सक्रिय थी।

27 सितंबर को खेड़ा पुलिस ने दोपहर लगभग दो बजे सभी पदयात्रियों को अहमदाबाद के ओढव पुलिस स्टेशन को हैंड ओवर कर दिया। बिलकिस बानो से माफी मांगो पद यात्रा को पुलिस द्वारा रोके जाने के खिलाफ पांडेय जी उपवास पर चल रहे हैं। इसलिए पुलिस ने पांडेय जी को छोड़कर सभी के लिए भोजन की व्यवस्था की और एक घंटे बाद सभी पदयात्रियों को उनके आवास तक छोड़कर आई।

28 09 2022 05

अहमदाबाद पुलिस कमिश्नर से हमने मोराजी चौक पर संदीप पांडे जी के उपवास के लिए पुलिस अनुमति मांगी है। रखियाल पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर सोलंकी साहब से संदीप पांडे और उनके साथियों ने रूबरू मिलकर उपवास की अनुमति देने की मांग की है।

कलीम सिद्दीक़ी यानी मैंने अपना बयान भी दर्ज करा दिया है। आशा है पुलिस सकारात्मक निर्णय लेगी।

हम पुलिस की अनुमति की प्रतीक्षा करेंगे, अनुमति मिलने पर उपवास शुरू हो जाएगा। यदि अनुमति नहीं मिली तो उसके बाद कल सभी साथी मिलकर आगे का निर्णय लेंगे।

(अहमदाबाद से जनचौक संवाददाता कलीम सिद्दीकी की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

डीयू कैंपस के पास कैंपेन कर रहे छात्र-छात्राओं पर परिषद के गुंडों का जानलेवा हमला

नई दिल्ली। जीएन साईबाबा की रिहाई के लिए अभियान चला रहे छात्र और छात्राओं पर दिल्ली विश्वविद्यालय के पास...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -