Wednesday, July 6, 2022

47 लाख की आबादी वाले हरदोई में पुलिस ने 90 हजार लोगों को किया पाबंद

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

47 लाख (4,741,970) की आबादी वाले हरदोई जिले में 90 हजार लोगों को पुलिस ने पाबंद किया है। गौरतलब है कि हरदोई में तीसरे चरण यानी 23 फरवरी को मतदान होना है। मतदान के दौरान कोई भी अराजक तत्व किसी भी तरह की अराजकता न फैला सके इसको लेकर हरदोई पुलिस ने यहां भारी तादाद में लोगों पर कार्रवाई की है।

बीते कई चुनावों से यह देखने में आया है कि पुलिस अपनी जवाबदेही से बचने के लिए तमाम लोगों को 107/16 की कार्यवाही में पाबंद करती है और इसका हर्जाना आम आदमी को भुगतना होता है।

एसपी राजेश द्विवेदी ने मीडिया को बताया है कि हरदोई में 2 हज़ार से अधिक मतदान केंद्र हैं और किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी न हो इसको लेकर हरदोई पुलिस पूरी तरह प्रतिबद्ध है और इसी कड़ी में पुलिस ने हरदोई में लगभग 90 हज़ार लोगों को 107/16 की कार्रवाई में पाबंद किया है, साथ ही 600 लोगों पर गुंडा एक्ट की कार्रवाई की है। एसपी राजेश द्विवेदी ने बताया कि जिन पर गुंडा एक्ट की कार्रवाई की गई है उनको जिला बदर किये जाने के भी प्रयास किये जा रहे हैं। हरदोई पुलिस हर सूरत में निष्पक्ष, निर्भीक मतदान कराने को लेकर हर तरह के सकारात्मक प्रयास करने को प्रतिबद्ध है। 

107/16 कानून व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए बनायी गयी है। जब किसी व्यक्ति से शांति भंग करने का अनुमान होता है तो पुलिस सीआरपीसी की धारा 107/16 के तहत उसे पाबंद करती है। इसमें मुख्यतया वो लोग होते हैं जो किसी न किसी अपराध में मुब्तिला रहे यानी जिनका आपराधिक इतिहास रहा होता है और कई बार इसमें बेगुनाह और आम आदमियों को भी पाबंद किया जाता रहा है। 

पुलिस अपनी जवाबदेही से बचने के लिए इस धारा का दुरुपयोग करती है। जबकि आम जनता के लिए यह काफी मुसीबत भरी हो सकती है। इसलिए 107/16 में जमानत कराना अनिवार्य है। वैसे तो यह हल्की धारा होती है लेकिन जमानत कराना अनिवार्य है। 107/16 की कार्यवाही को लेकर शासन स्तर से और हाईकोर्ट से भी पुलिस अधिकारियों को फटकार लगी है। कई बार शिकायतें हुईं और कोर्ट ने यह भी माना कि पुलिस ने बिना किसी आधार 107/16 की कार्यवाही किसी निर्दोष व्यक्ति पर की है।

इतना ही नहीं डीएम अविनाश कुमार व एसपी राजेश द्विवेदी ने सशस्त्र बल के साथ फ्लैग मार्च किया। आगामी विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनज़र बावन चुंगी से बड़ा चौराहा तक फ्लैग मार्च किया गया, एसपी ने फ्लैग मार्च कर जनता को भयमुक्त मतदान के लिए प्रेरित किया, एसपी ने कहा कि फ्लैग मार्च करने का उद्देश्य अपराधियों में भय व्याप्त करना है, और जनता में भयमुक्त होकर मतदान करने के लिए प्रेरित करना है, एसपी द्विवेदी थाना वार कई क्षेत्रों में फ्लैग मार्च कर चुके हैं।  4 जनवरी को हरदोई में तबादले के साथ राजेश द्विवेदी एसपी बनाये गये हैं। हरदोई के एसपी बनने से पूर्व राजेश द्विवेदी अभिसूचना मुख्यालय लखनऊ से सम्बद्ध थे।

(जनचौक ब्यूरो की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

फ़ादर स्टैन स्वामी की पहली पुण्यतिथि पर ‘झारखंड की आवाज स्टैन स्वामी’ पुस्तक का लोकार्पण

रांची। आज 05 जुलाई 2022 को झारखंड की राजधानी रांची के मनरेसा हाउस में विस्थापन विरोधी जन विकास आन्दोलन, झारखंड इकाई द्वारा झारखण्डी जनता...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This