Saturday, October 1, 2022

जीवेश चौबे

हबीब तनवीर जन्म शताब्दीः आम जन और जनसरोकार के लिए प्रतिबद्ध रंगकर्मी 

प्रख्यात नाट्यकार, निर्देशक, अभिनेता हबीब तनवीर का यह जन्म शताब्दी वर्ष है। उनका जन्म 1 सितंबर, 1923 को रायपुर, छत्तीसगढ़ में हुआ था। हबीब तनवीर के पिता हफीज अहमद खान पेशावर (पाकिस्तान) के रहने वाले थे। हबीब तनवीर ने...

किसान आंदोलनः फतह के बाद घर वापसी, अब आगे

पिछले एक साल से चल रहा किसान आंदोलन अभूतपूर्व जीत के साथ फिलहाल स्थगित हो गया। सरकार द्वारा किसानों के केस वापसी समेत अन्य दूसरी सभी मांगें मंजूर होने का आधिकारिक पत्र मिला। इसके बाद इस मुद्दे पर संयुक्त किसान...

आईपीएल की चहारदीवारी के बाहर मरते लोग और रईसों-सट्टेबाजों का मनोरंजन

हमेशा की तरह एक बार फिर देश में क्रिकेट का आइटम सॉन्ग कहे जाने वाले 20-20 का भोंडा प्रदर्शन शुरू हो चुका है। क्रिकेट की लोकप्रियता और भारतीय जनमानस की उत्सवधर्मिता के चलते इसमें कोई बहुत वाद-विवाद या विमर्श...

हिंदू-मुस्लिमों के बीच बनाई खाई का पुल बनता किसान आंदोलन

किसान नेता राकेश टिकैत की भावुक अपील का वृहत्तर पैमाने पर और विशेष रूप से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जबरदस्त असर हुआ। पश्चिमी यूपी के जाट समुदाय ने उनकी अपील को जाट समुदाय के स्वाभिमान से जोड़ते हुए टिकैत...

सामाजिक संघर्ष में तब्दील होता किसान आंदोलन

हाड़ कंपाती ठंड में लगभग डेढ़ माह से दिल्ली सीमा पर अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे किसानों का मोर्चा धीरे-धीरे सामाजिक संघर्ष में तब्दील होता जा रहा है। किसी भी लड़ाई का चरम बिंदु होता है जब वो...

गोदी मीडिया से नहीं सोशल प्लेटफार्म से परेशान है केंद्र सरकार

विगत दिनों सुदर्शन न्यूज़ चैनल पर ‘यूपीएससी जिहाद’ कार्यक्रम के खिलाफ दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से मीडिया की आजादी और सरोकर तथा सरकार की भूमिका को लेकर नई बहस छिड़ गई है। इस बहस ने समाचार...

छत्तीसगढ़ः 15 साल की सत्ता की खुमारी से बाहर नहीं आ पा रहा विपक्ष

छत्तीसगढ़ में 15 वर्षों तक सत्ता पर काबिज रहने के बाद बुरी तरह पराजित होकर बहुत ही सीमित सीटों पर सिमटने के आघात से लगता है भारतीय जनता पार्टी अब तक उबर नहीं पाई है। प्रदेश में विपक्ष अब...

सौ साल पीछे छोड़ चुकी राह पर लौटती कांग्रेस!

पिछले हफ्ते दो महत्वपूर्ण घटनायें हुईं जिन्होंने देश की जनता पर गहरा प्रभाव डाला है। एक तो राम मंदिर का भूमिपूजन था जिसका सरकार प्रायोजित भव्य और जोरदार जलसे के साथ संपन्न होना कोई आश्चर्य की बात नहीं कही...

दल-बदल अनैतिक ही नहीं बल्कि जनमत का अपमान भी है

सत्ता की ऐसी भूख कि केन्द्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी द्वारा एक के बाद एक लगातार स्थिर सरकारों को अस्थिर करने के प्रयास किए जा रहे हैं। केन्द्र में सत्ता हासिल करने के बाद 2014 से ही मोदी...

कानून को कटघरे में खड़ा करती है एनकाउंटर के प्रति बढ़ती जन स्वीकृति

पाप से घृणा करो पापी से नहीं, जाने कब से कहा बताया जाता रहा है। आधुनिक समाज में पाप की जगह अपराध और पापी की जगह अपराधी ने ले ली और लोग कहने लगे अपराध से घृणा करो अपराधी...

About Me

22 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

सोडोमी, जबरन समलैंगिकता जेलों में व्याप्त; कैदी और क्रूर होकर जेल से बाहर आते हैं: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कहा कि भारत में जेलों में अत्यधिक भीड़भाड़ है, और सोडोमी और जबरन समलैंगिकता...