Saturday, October 1, 2022

रूपेश कुमार सिंह

ग्राउंड रिपोर्टः धुंआ और राख के बीच घुटती लाखों जिंदगियां

‘‘जब मेरे इलाके में फैक्ट्रियां लगनी शुरू हुई थीं, तो मेरी उम्र लगभग 40 साल थी। मेरे गांव वाले बहुत खुश थे कि अब हमें रोजगार के लिए दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा। हमारे इलाके में नये-नये अस्पताल...

ग्राउंड रिपोर्ट: कैमूर के आदिवासियों ने भरी हुंकार, कहा- बाघ अभ्यारण्य नहीं बनने देंगे

कैमूर। ‘‘जल-जंगल-जमीन हम आपका, नहीं किसी के बाप का’’, ‘‘जल-जंगल-जमीन हमारा है, वन विभाग की जागीर नहीं’’, ’‘ ये धरती सारी हमारी है, जंगल-पहाड़ हमारे हैं’’, ‘‘ लोकसभा न विधानसभा, सबसे ऊपर ग्रामसभा’’, ‘‘बाघ अभ्यारण्य को हटाना है, जल-जंगल-जमीन...

खबर का असर: बालदेव मुर्मू उत्पीड़न मामले में हजारीबाग प्रशासन को एनएचआरसी की नोटिस

रांची। 2 फरवरी, 2022 को ‘जनचौक’ के पहला पन्ना पर झारखंड के स्वतंत्र पत्रकार रूपेश कुमार सिंह की छपी ग्राउंड रिपोर्ट ‘मुर्मू को माओवादी बनाने पर आमादा थी झारखंड पुलिस’ को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने संज्ञान लेते हुए...

बोकारो ग्राउंड जीरो: सेल और सरकार के बीच पिसते ग्रामीणों का अंतहीन संघर्ष

‘हम लोग खुले में ही शौच के लिए जाते हैं, क्योंकि हमारे घर में शौचालय नहीं है। रोज कमाते हैं, रोज खाते हैं, हम खाएं कि शौचालय बनवाएं? पता नहीं सरकार ने कैसे पूरे जिलों को खुले में शौच...

महिला दिवस पर विशेष: समाज के बदलाव के लिए शीला मरांडी ने कर दिया अपना सब कुछ कुर्बान

टुंडी (धनबाद)। ‘‘शीला दीदी बहुत ही अच्छी हैं, वे हमेशा हम गरीबों व महिलाओं के हित की बात करती थीं। वे बच्चों व युवाओं को पढ़ाई के लिए प्रेरित करती थीं। वे हमेशा कहती थीं कि बिना लड़े आपको...

ग्राउंड रिपोर्टः एक आदिवासी कार्यकर्ता को झारखंड पुलिस ने कैसे बना दिया माओवादी!

गिरिडीह। ‘‘भगवान दास किस्कू हमारे गांव का सबसे पढ़ा-लिखा युवक है। वे हमारे गांव का नेतृत्व करते थे, हमें सभी चीज के बारे में बताते थे। आज गांव में बहुत सारे युवक हैं, लेकिन उनके बिना लगता है कि...

‘मजदूर संगठन समिति’ पर माओवादी होने का चस्पा हाईकोर्ट से खारिज, प्रतिबंध हटा

रांची। रांची उच्च न्यायालय ने ट्रेड यूनियन ‘मजदूर संगठन समिति (एमएसएस)’ पर लगे प्रतिबंध को वापस लेने का आदेश 11 फरवरी, 2022 को जारी किया है। उच्च न्यायालय के न्यायाधीश चन्द्रशेखर ने अपने आदेश में कहा है कि कोई...

ग्राउंड रिपोर्ट: एक मुस्लिम शिक्षक व उनकी पत्नी के साथ झारखंड पुलिस की बर्बरता

‘‘मेरे दोनों पैर बांध दिये गये और उसके बीच में एक डंडा घुसा दिया गया, मेरे दोनों हाथ को फैलाकर दो पुलिस वालों ने जमीन से सटाकर पकड़ लिया, मेरे मुंह में गमछा फाड़कर ठूंस दिया गया और उसके...

ग्राउंड रिपोर्ट: मुर्मू को माओवादी बनाने पर आमादा थी झारखंड की पुलिस

‘‘मुझे जब सिविल ड्रेस में मौजूद 2 पुलिस वाले ने पकड़ लिया और एक ने अपना रिवाल्वर मेरे कमर में सटाकर मुझे बोलेरो में खींचकर बैठा लिया, तो मैं काफी डर गया था। मुझे लगा कि अब ये लोग...

झारखंड में ऐतिहासिक आंदोलन की तैयारी, 26 नवंबर को 50 हजार लोग करेंगे राजभवन मार्च

झारखंड। 3 अक्टूबर, 2021 झारखंड के लिए एक ऐतिहासिक दिन था, इस दिन झारखंड के कई जिलों से लगभग 2 दर्जन जन संगठन (छात्र संगठन, विस्थापित संगठन, मजदूर संगठन, दलित संगठन, अल्पसंख्यक संगठन, आदिवासी संगठन, महिला संगठन, युवा संगठन...

About Me

94 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

सोडोमी, जबरन समलैंगिकता जेलों में व्याप्त; कैदी और क्रूर होकर जेल से बाहर आते हैं: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कहा कि भारत में जेलों में अत्यधिक भीड़भाड़ है, और सोडोमी और जबरन समलैंगिकता...