Monday, August 15, 2022

सपा से जुड़े लोगों के घरों पर आयकर की छापेमारी

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले आरएसएस भाजपा की केंद्र सरकार ने अपना ट्रेड मार्क प्रशासनिक हथियार इस्तेमाल कर लिया है। पश्चिम बंगाल, तमिलनाड़ु की तर्ज़ पर उत्तर प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी और आगामी विधानसभा चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा को कड़ी टक्कर देती दिख रही समाजवादी पार्टी से जुड़े मुख्य लोगों के आवास और दफ़्तरों पर छापेमारी की गई है। 

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, आयकर विभाग ने शनिवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और प्रवक्ता राजीव राय के मऊ स्थित आवास पर छापेमारी की। आयकर विभाग की टीम ने लखनऊ के जैनेंद्र यादव और मैनपुरी में मनोज यादव के घर पर भी छापेमारी की है। ये लोग समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के क़रीबी बताए जा रहे हैं।

शनिवार सुबह, वाराणसी से आयकर विभाग की एक टीम मऊ पहुंची और शहादतपुरा स्थित उनके घर पर तलाशी शुरू कर दी। छापे की कार्रवाई के दौरान समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय को 2 घंटे तक घर में ही नज़रबंद कर दिया गया था। छापेमारी की ख़बर फैलते ही सपा कार्यकर्ता राजीव राय के घर के बाहर एकत्र होकर विरोध करने लगे, जिसे देखते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिस तैनात की गई है।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इस छापेमारी पर प्रतिक्रिया देते हुए सपा नेता राजीव राय ने कहा है कि “आयकर विभाग के लोग आए हैं। मेरा कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। मेरे पास कोई अवैध पैसा नहीं है। लोगों की मदद करना भाजपा को पसंद नहीं आया।”

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा का हार का डर जितना बढ़ता जायेगा, विपक्षियों पर छापों का दौर भी उतना बढ़ता जाएगा फिर भी सपा का रथ व हर कार्यक्रम बदस्तूर चलता जाएगा।

अब तो जनता पूरी तरह भाजपा के ख़िलाफ़ विपक्ष के साथ खड़ी है, अब क्या बाइस के लिए भाजपा सरकार उप्र की बाइस करोड़ जनता के यहाँ छापे डालेगी।

सपा जिलाध्यक्ष लोहिया वाहिनी धीरज राजभर ने कहा, ”आज अचानक सुबह किसी विभाग के लोग आए हैं। हमें अंदर जाने नहीं दे रहे हैं और न कुछ बता रहे हैं कि क्या कार्रवाई चल रही है। अंदर से दरवाजा बंद है।”

वहीं, लखनऊ में अंबेडकर पार्क के पास स्थित जैनेंद्र यादव के आवास पर आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की है। आयकर विभाग की टीम ने जैनेंद्र यादव के घर की तलाशी ली। इसके अलावा, अखिलेश यादव के करीबी और आरसीएल ग्रुप के मालिक मनोज यादव के मैनपुरी स्थित घर पर भी आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा। इस दौरान किसी को भी घर के अंदर नहीं जाने की अनुमति नहीं है। घर के बाहर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात की गई है। तलाशी में क्या कुछ निकलकर सामने आया है, इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है।

(जनचौक ब्यूरो की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

कार्पोरेट्स के लाखों करोड़ की कर्जा माफ़ी क्या रेवड़ियां नहीं हैं मी लार्ड!

उच्चतम न्यायालय ने अभी तक यह तय नहीं किया है कि फ्रीबीज या रेवड़ियां क्या हैं, मुफ्तखोरी की परिभाषा क्या है? सुप्रीम...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This