Wednesday, December 7, 2022

firing

बस्तर के चिलकापल्ली में हुए माओवादी मुठभेड़ पर भी उठे सवाल

बस्तर। छत्तीसगढ़ के बस्तर में पुलिस - माओवादी मुठभेड़ सवालों के घेरे में है। छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्रान्तर्गत बीजापुर में 27 सितम्बर को आवापल्ली थाना क्षेत्र के चिलकापल्ली और पाउरगुड़ा के जंगल मे पुलिस-माओवादी मुठभेड़ पर अब सवाल उठ...

महसा अमीनी की कस्टोडियल हत्या के ख़िलाफ़ ईरान में महिलाओं ने उतारे हिजाब, लगाये ‘तानाशाह को मौत’ के नारे

महसा अमीनी के अंतिम संस्कार के बाद ईरान में शुरू हुए विरोध प्रदर्शन में बड़ी संख्या में महिलाओं ने हिजाब हटाकर प्रदर्शन किया, जिसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग कर दी, जिसमें काफी लोग घायल हुये हैं। प्रदर्शनकारी महिलाओं...

जनसंघर्षों का नतीजा है हेमंत सरकार का नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज को फिर से अधिसूचित नहीं करने का फैसला

झारखंड सरकार ने पायलट प्रोजेक्ट नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज को लेकर बड़ा निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज के अवधि विस्तार के प्रस्ताव को विचाराधीन प्रतीत नहीं होने के बिंदु पर अनुमोदन दे दिया...

भिलाई के शहीद मजदूरों को लोगों ने दी श्रद्धांजलि

भिलाई। छत्तीसगढ़ में भिलाई के लोग उस काले दिन को आज भी नहीं भूल पाएं है जब 17 निर्दोष मजदूरों की हत्या कर दी गयी थी। इस घटना ने ना केवल भिलाई को बल्कि देश को झकझोर कर रख...

झारखंड में 10 जून की घटना के निहितार्थ

भाजपा की नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर देश के कई भागों सहित झारखंड की राजधानी रांची में पिछले 10 जून को हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा में पुलिस की गोली से कैफी उर्फ तौशीर और साहिल अंसारी की...

सांस्कृतिक सड़ांध की उपज है अमेरिका का शस्त्र प्रेम 

टेक्सस, अमेरिका के युवाल्डे शहर के रॉब एलिमेंट्री स्कूल में एक 18 वर्षीय बंदूकधारी सेल्वडोर रॉमोस ने जिस तरह गोलियों की बारिश करके वहाँ के प्राइमरी स्कूल में पढ़ने वाले पाँच से ग्यारह साल के 19 मासूम बच्चों को...

पदयात्रा के बाद आंदोलनकारियों ने नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज को रद्द करवाने को लेकर राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन

रांची। नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज को रद्द करवाने संबंधी अपनी मांग को लेकर केन्द्रीय जनसंघर्ष समिति लातेहार-गुमला द्वारा 21 से 25 अप्रैल 2022 तक जारी पदयात्रा के बाद 25 अप्रैल को रांची पहुंच कर राज्यपाल को एक ज्ञापन दिया...

खास रिपोर्ट: नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज के खात्मे के लिए टुटुवापानी में हुआ बड़ा जमावड़ा, टिकैत ने की शिरकत

नेतरहाट/रांची। नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है। दरअसल रेंज को फायरिंग के लिए इस्तेमाल करने की समयावधि 11 मई, 2022 को समाप्त हो रही है। इसको आगे विस्तार न दिया जाए इसके लिए...

खरसावाँ:आजाद भारत का जलियांवाला

" हमारे लोगों का पूरा इतिहास गैर-आदिवासियों के अंतहीन उत्पीड़न और बेदखली को रोकने के लिए किए गये विद्रोहों का इतिहास है। मैं आप सब के कहे हुए पर विश्वास कर रहा हूँ की हम लोग एक नए अध्याय...

आज पहली जनवरी को झारखंड के आदिवासी क्यों मना रहे हैं काला दिवस?

आजादी के मात्र साढ़े चार महीने बाद ही पहली जनवरी 1948 में खरसावां हाट बाजारटांड़ में पुलिस फायरिंग में हजारों लोग मारे गए थे। जिसे आजाद भारत का जालियांवाला बाग हत्याकांड की संज्ञा दी गई है। कितने लोग उस...
- Advertisement -spot_img

Latest News

साईबाबा पर सुप्रीमकोर्ट के आदेश पर पुनर्विचार के लिए चीफ जस्टिस से अंतर्राष्ट्रीय संगठनों की अपील

उन्नीस वैश्विक संगठनों ने भारत के मुख्य न्यायाधीश डी.वाई. चंद्रचूड़  को संयुक्त पत्र लिखकर कथित 'माओवादी लिंक' मामले में...
- Advertisement -spot_img