Tuesday, October 4, 2022

parul

गुजरात साहित्य अकादमी के अध्यक्ष विष्णु पांड्या ने ‘शववाहिनी गंगा’ को दिया अराजक कविता का खिताब

'शववाहिनी गंगा' कविता लिखने वाली गुजराती कवि  पारुल खाखर 'अराजक' हैं और इस कविता को सराहने वाले 'साहित्यिक नक्सली'! ये मेरा नहीं गुजरात साहित्य अकादमी के अध्यक्ष विष्णु पांड्या का कहना है।  दरअसल गुजरात साहित्य अकादमी के अध्यक्ष विष्णु पांड्या...
- Advertisement -spot_img

Latest News

पेसा कानून में बदलाव के खिलाफ छत्तीसगढ़ के आदिवासी हुए गोलबंद, रायपुर में निकाली रैली

छत्तीसगढ़। गांधी जयंती के अवसर में छत्तीसगढ़ के समस्त आदिवासी इलाके की ग्राम सभाओं का एक महासम्मेलन गोंडवाना भवन...
- Advertisement -spot_img