Monday, August 15, 2022

pollution

ग्राउंड रिपोर्टः धुंआ और राख के बीच घुटती लाखों जिंदगियां

‘‘जब मेरे इलाके में फैक्ट्रियां लगनी शुरू हुई थीं, तो मेरी उम्र लगभग 40 साल थी। मेरे गांव वाले बहुत खुश थे कि अब हमें रोजगार के लिए दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा। हमारे इलाके में नये-नये अस्पताल...

ई-वेस्ट स्पेशल: शहरों में मुसीबत का पहाड़ बनता जा रहा है इलेक्ट्रॉनिक कचरा

पिछले दो दशक में जिस प्रकार से इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं के उपयोग में क्रन्तिकारी बढ़ोत्तरी हुई है। इसी प्रकार से इलेक्ट्रॉनिक कचरों में भी वृद्धि हुई है। वर्ष 2005 में देश में 1.46 लाख मीट्रिक टन e-waste निकला था। जो...

गांधी जी भी दुखी थे गंगा की गंदगी को लेकर

गांधी जी जब अप्रैल 1915 में कुम्भ के अवसर पर महात्मा मुन्शी राम से मिलने हरिद्वार पहुंचे तो उन्हें इस तीर्थनगरी और खास कर गंगा की गंदगी को देख कर बड़ा कष्ट हुआ। गंगा की इस भौतिक गंदगी से...

कैसे बचेगा पंजाब का अस्तित्व?

गुरुबाणी के संदेश ‘पवन गुरु, पानी पिता, माता धरा सामान’ में आस्था रखने वाले पंजाबियों के लिए वैज्ञानिकों ने दो साल पहले भविष्यवाणी की थी कि 2025 तक पंजाब के भूजल संसाधन सूख जाएंगे और अगले कुछ सालों में...

धजवा पहाड़ मामले में आंदोलनकारियों को बड़ी सफलता, एनजीटी ने खनन को अवैध ठहराते हुए नुकसान के आकलन का दिया निर्देश

रांची। धजवा पहाड़ बचाने की मुहिम में शामिल आंदोलनकारियों को बड़ी जीत मिली है। आंदोलन के 139 वें दिन कोर्ट से न केवल पक्ष में फैसला आया है बल्कि संबंधित अधिकारियों को कड़ी फटकार मिली है। धजवा पहाड़ बचाओ...

 अदृश्य पानी, दिखता संकट

22 मार्च को विश्व जल दिवस मनाया जाता है। ताजा पानी के महत्व को रेखांकित करने के लिए 1993 से यह आयोजन होता है। इस वर्ष के आयोजन का विषय भूजल है जो कम से कम भारत में पेयजल...

ग्राउंड रिपोर्ट: फैक्ट्रियां लील गयीं गजरौला की ऐतिहासिक विरासत

गजरौला। पश्चिम यूपी में गजरौला औद्योगिक नगरी के नाम से विख्यात है। सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के घनिष्ठ सहयोगी रहे स्वर्गीय रमाशंकर कौशिक प्रदेश स्तर की राजनीति में काफी समय तक एक प्रभावशाली भूमिका में रहे। इनके...

रायगढ़ स्पेशल: जंगल और ज़िंदगी पर माइनिंग का दंश

रायगढ़। रायगढ़ जिले में 1991 में खनन के क्षेत्र में जिंदल के प्रवेश के बाद अब तक सैकड़ों कॉर्पोरेट ने लाखों हेक्टेयर जल, जंगल और जमीन पर प्रशासन की गैर कानूनी मदद से, सारे नियम कायदे व न्यायालय निर्देशों...

हरियाली बचाने, वाहन हटाने में वायु प्रदूषण का निदान

शीत का प्रकोप बढ़ने के साथ पटना की हवा एक बार फिर खराब होने लगी है। मंगलवार को पटना का वायु गुणवत्ता स्तर (एक्यूआई) 328 था, कल बृहस्पतिवार को वह गिरकर 330 हो गया है। शहर के भीतर छह...

दिल्ली से भी ज्यादा खराब है पटना, मुजफ्फरपुर और भागलपुर की हवा

हवा दिल्ली की ही नहीं, पटना की भी खराब है। पटना ही नहीं मुजफ्फरपुर, भागलपुर समेत पूरी गंगा घाटी की हवा खराब से खतरनाक के बीच है। फर्क केवल यह है कि दिल्ली की खराब हवा के बारे में...
- Advertisement -spot_img

Latest News

आज़ादी के बाद भी आज़ादी के लिए लड़ते रहे, सरहदी गांधी

"आपने हमें भेड़ियों के आगे फेंक दिया।” बंटवारे की खबर मिलने के बाद, यह गंभीर और कड़ी प्रतिक्रिया, थी...
- Advertisement -spot_img