Tuesday, August 9, 2022

जयसिंह रावत

धामी सरकार का 65.57 करोड़ का बजट पेश: आमदनी अठन्नी खर्चा रुपैया

देहरादून। उत्तराखण्ड विधानसभा के बजट सत्र के पहले ही दिन वित्तमंत्री प्रेमचन्द अग्रवाल ने राज्य का बजट पेश किया जिसमें कर्ज समेत कुल राजस्व प्राप्ति 63.77 हजार करोड़ एवं खर्च 65.57 हजार करोड़ दर्शाया गया है। बजट में कुल...

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ नारा गुजरात में भी नहीं उतरा धरती पर

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा जितना अधिक प्रचलित हुआ अभी तक धरातल पर उतना नहीं उतर सका। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृह प्रदेश गुजरात में ही यह नारा लड़खड़ा गया जहां लोगों में बेटियों को पढ़ाने में अपेक्षित...

गांधी जी भी दुखी थे गंगा की गंदगी को लेकर

गांधी जी जब अप्रैल 1915 में कुम्भ के अवसर पर महात्मा मुन्शी राम से मिलने हरिद्वार पहुंचे तो उन्हें इस तीर्थनगरी और खास कर गंगा की गंदगी को देख कर बड़ा कष्ट हुआ। गंगा की इस भौतिक गंदगी से...

एक दिन झाड़ियों में गुम हो जायेगी विश्व विख्यात फूलों की घाटी

पारिस्थितिकी तंत्र की जानकारी के नितांत अभाव, वन एवं वन्यजीव संरक्षण के अव्यवहारिक सरकारी उपाय और विवेकहीन पर्यटन तथा विकास की नीतियों के चलते धरती पर स्वर्ग का जैसा नजारा देने वाली ”विश्व विख्यात फूलों की घाटी’’ का अस्तित्व...

समान नागरिक संहिता के नाम पर ढकोसला कर रही है धामी सरकार

यह जानते हुये भी कि समान नागरिक संहिता राज्य सरकार या विधानसभा का विषय नहीं है, फिर भी उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चम्पावत उपचुनाव से ठीक 4 दिन पहले नागरिक संहिता का मजमून तैयार करने के...

हल्द्वानी के निकट दंगों का प्रशिक्षण: राज्य सरकार की मौन सहमति

नैनीताल जिले की कालाढुंगी में आगामी 22 मई से बजरंगदल का शौर्य प्रशिक्षण वर्ग (शिविर) आयोजित होने जा रहा है जिसकी अनुमति 20 मई तक आयोजकों द्वारा प्रशासन से नहीं ली गयी थी, जबकि उस शिविर में युवाओं को...

मोदी-शाह का अगला निशाना 1937 का शरीयत कानून

उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हाल ही में सम्पन्न विधानसभा के चुनाव में जब राज्य में समान नागरिक संहिता लागू करने की घोषणा की तो लग रहा था कि उन्होंने गलतफहमी में मतदाताओं को रिझाने के लिये...

पलायन की मार्मिक दास्तानों से भरा पड़ा है पहाड़

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का अपने जन्म स्थान पंचूर आ कर माता का आशिर्वाद लेना सदियों पहले सन्यासी बने राजा गोपीचन्द के लुप्त हो रहे भजन को पुनर्जीवित करने के साथ ही पहाड़ के पलायन की...

पुण्यतिथि पर विशेष: क्या भक्त दर्शन जैसा कोई आदर्शवादी नेता पैदा होगा उत्तराखण्ड में

उत्तराखण्ड के महान राजनेता, लेखक, पत्रकार और चिन्तक डॉ. भक्त दर्शन के व्यक्तित्व और उनके कृतित्व पर अगर हम विस्तार से प्रकाश डालें तो आज के अवसरवादी, पदलोलुप, जातिवादी और साम्प्रदायिकतवादी राजनीतिक महौल को देख कर नयी पीढ़ी को...

उत्तराखण्ड विधानसभा चुनाव में करोड़पति और आपराधिक पृष्ठभूमि के प्रत्याशी ज्यादा पसंद आये

उत्तराखण्ड को आज सरकार से ज्यादा प्रदेश का राजनीतिक माहौल बदलने की जरूरत है। क्योंकि पहले तो लोगों की मौजूदा राजनीतिक व्यवस्था के प्रति रुचि घट रही है। मौजूदा विधानसभा के सदस्यों ने कुल मतदाताओं के 31 प्रतिशत का...

About Me

55 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

बिहार में सियासत करवट लेने को बेताब

बिहार में बीजेपी-जेडीयू की सरकार का दम उखड़ने लगा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस दमघोंटू वातावरण से निकलने को...