Tuesday, August 9, 2022

जयसिंह रावत

जन्मभूमि से दूरी के बावजूद पहाडि़यों के दिलों के करीब रहे हेमवती नन्दन बहुगुणा

हिमालय पुत्र हेमवती नन्दन बहुगुणा का व्यक्तित्व इतना विराट था कि वह अपने कृतित्वों के कारण अपनी जन्मभूमि उत्तराखण्ड और कर्मभूमि उत्तर प्रदेश की सीमाओं से भी बाहर देशभर में याद किये जाते रहे। एक समय ऐसा भी था...

पेशावर काण्ड के बहादुर गढ़वालियों का कोई नामलेवा नहीं

विश्व में शायद ही कोई ऐसा सैन्य विद्रोह हुआ हो जिसमें विद्रोही सैनिकों द्वारा हथियार उठाने के बजाय हथियार गिरा दिये गए हों। ऐसी मिसाल गढ़वाली सैनिकों ने पेशावर में 23 अप्रैल 1930 को पेश की थी। यही नहीं...

जलकर खाक हो रहे हैं उत्तराखंड के जंगल

’’जब रोम जल रहा था, तो नीरो सुख और चैन की बाँसुरी बजा रहा था।’’ यह कहावत रोमन सम्राट नीरो के बारे में मशहूर है। लेकिन वर्तमान में यह कहावत उत्तराखण्ड पर चरितार्थ हो रही है, जहां जंगल की...

दो राहे पर प्रीतम सिंह, जायें तो जायें कहा?

राजनीति की एक अजीब सी दुनिया है जहां न तो कोई किसी का स्थायी दोस्त होता है और न ही स्थायी दुश्मन। अब तो राजनीति में कोई स्थाई ठिकाना भी नहीं रह गया है। घर का रखवाला घर को...

नये पदाधिकारियों को लेकर उत्तराखण्ड कांग्रेस में विद्रोह की नौबत 

नेता प्रतिपक्ष और प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा के बाद उत्तराखण्ड कांग्रेस की रार थमने के बजाय बढ़ती जा रही है। ताजा विद्रोह के चलते पार्टी में 2016 के घटनाक्रम की पुनारावृत्ति की नौबत आ गयी है। समझा जाता है...

अफसरों की एसीआर के नाम पर मुख्यमंत्री की शक्तियां भी चाहते हैं उत्तराखण्ड के मंत्री

उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने वरिष्ठ कैबिनेट सहयोगी सतपाल महाराज की मांग पर आईएएस और आईपीएस सरीखे आला अफसरों पर नकेल कसने के लिये उनकी वार्षिक गोपनीय रिपोर्ट (एसीआर) लिखने का अधिकार मंत्रियों को देने के...

उत्तराखण्ड के राज्यपाल के अभिभाषण में सरकार के संकल्प और दृष्टिकोण गायब

संविधान के अनुच्छेद 175 के तहत किसी भी राज्य का राज्यपाल अपने अभिभाषण में अपनी सरकार के सालभर के संकल्पों के साथ ही राज्य की उन्नति और जनहित के मामलों के प्रति दृष्टिकोण प्रस्तुत करता है। इसे एक तरह...

उत्तराखण्ड में नागरिक संहिता, महज धामी का खयाली पुलाव

उत्तराखण्ड में पुष्कर सिंह धामी की कैबिनेट ने अपनी पहली ही बैठक में पहला प्रस्ताव पारित कर राज्य में समान नागरिक संहिता लागू करने का ऐलान कर दिया। यह वायदा मुख्यमंत्री ने विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश की जनता...

धामी को अपनी ही घोषणाओं का बोझ चैन से रहने नहीं देगा

उत्तराखण्ड के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चुनाव हारने के बावजूद पार्टी नेतृत्व का विश्वास जीत कर प्रदेश की सत्ता की बागडोर दुबारा हासिल तो कर ली है, लेकिन उनके सामने अब उस विश्वास को कायम रखने के...

करारी हार के बाद उत्तराखण्ड कांग्रेस में घमासान: पार्टी प्रभारी यादव निशाने पर

विधानसभा चुनावों में करारी हार के बाद उत्तराखण्ड कांग्रेस की रार खुल कर सामने आने लगी है। इस हार के लिये एक दूसरे को जिम्मेदार ठहराने के साथ ही आरोपों के छींटे पार्टी प्रभारी देवेन्द्र यादव के दामन तक...

About Me

55 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

बिहार में सियासत करवट लेने को बेताब

बिहार में बीजेपी-जेडीयू की सरकार का दम उखड़ने लगा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस दमघोंटू वातावरण से निकलने को...