Friday, December 2, 2022

झारखंड का दुमका एक बार फिर हुआ शर्मसार

Follow us:

ज़रूर पढ़े

झारखंड का दुमका दुष्कर्म के बाद युवती की हत्या की घटना से एक बार फिर शर्मसार हुआ है। पिछले 2 सितंबर को जब कुछ लोग मॉर्निंग वाक के लिए सुबह-सुबह निकले तो देखा कि एक किशोरी का शव पेड़ से लटक रहा है। लोगों ने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी। लोगों ने आशंका जताई है कि किशोरी की हत्या 1 सितंबर की रात करके लाश को पेड़ पर लटका दिया गया है ताकि यह आत्महत्या प्रतीत हो।

इस घटना के बारे जो जानकारी उभर कर आई है उससे यह पता चला है कि लड़की काफी गरीब थी और मजदूरी कर पेट पालती थी। उसकी मजबूरी का फायदा उठाकर आरोपी राजमिस्त्री अरमान ने कई माह तक उसका यौन शोषण किया और जब वह गर्भवती हो गई तो उसकी हत्या कर दी। लड़की राजमिस्त्री के साथ ही निर्माण कार्यों में मजदूरी करती थी।

कहना ना होगा कि झारखंड सहित पूरे देश में पिछले दिनों हुई अंकिता की मौत पर बवाल मचा हुआ है। लोग अपने अपने तरीके से अंकिता की मौत पर गुस्से का इजहार कर रहे हैं। हिन्दुत्ववादी संगठन लव जिहाद का प्रचार कर पूरे मुस्लिम समुदाय को ही कठघरे में खड़ा कर रहे हैं, वहीं क्षेत्र के मुसलमान साफ तौर इस जघन्य हत्याकांड का आरोपी शाहरुख और नईम को फांसी की सजा की मांग करते हुए यह भी कह रहे हैं कि दोनों की फांसी के बाद उसके शव को अपनी कब्र में जगह भी नहीं देंगे। तो दूसरी तरफ भाजपा को अंकिता को न्याय दिलाने से ज्यादा अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने की चिंता सताए जा रही है, इस बीच आदिवासी किशोरी की हत्या में अरमान का नाम आने के बाद भाजपा को राजनीतिक रोटी के साथ तड़का भी मिल गया है।

मौत से पहले अंकिता का वीडियो सामने आया है, जिसमें उसने इस घटना की आपबीती बताई है। वीडियो में अंकिता ने कहा कि ‘जैसे हम मर रहे हैं…उसको भी यही सजा हो जाए’… उसने आगे कहा कि शाहरूख सुबह पांच बजे मुझे मारने पेट्रोल का केन लेकर मेरे घर आया था।

वीडियो में अंकिता कहती नजर आ रही है कि सोमवार रात को हमने पापा को शाहरुख के बारे में बताया था। पापा ने कहा कि सुबह देखते हैं। लेकिन सुबह वह खिड़की से हम पर पेट्रोल डालकर आग लगाकर भाग गया। शाहरुख के साथ उसका दोस्त छोटू खान भी था। हमने खिड़की से दोनों को भागते देखा था। अंकिता ने बताया, ‘मैं सिर्फ यही देख पाई कि ब्लू टीशर्ट पहने, हाथ में पेट्रोल की कैन लिए शाहरुख भाग रहा था। ये वही शाहरुख था जो पिछले 10-15 दिन से मुझे परेशान कर रहा था। मोहल्ले में उसे आवारा किस्म के लड़के के रूप में सब जानते थे। उसका काम सिर्फ लड़कियों को परेशान करना और उन्हें अपने झांसे में लेकर इधर-उधर घुमाना था।

पिछले दस-पंद्रह दिन से वह मेरा पीछा कर रहा था। जब भी मैं स्कूल या ट्यूशन के लिए जाती, वह मेरा पीछा करता। हालांकि, मैंने कभी उसकी हरकतों को सीरियसली नहीं लिया, लेकिन उसने कहीं से मेरे मोबाइल का नम्बर जुगाड़ लिया था। उसके बाद अक्सर मुझे फोन करके मुझसे दोस्ती करने का दबाव बनाने लगा। अंकिता के मुताबिक, शाहरुख ने धमकी भी दी थी कि अगर मैं उसकी बात नहीं मानूंगी तो वह मुझे और मेरे परिवार वालों को मार देगा। मुझे उसकी हरकतों का अंदेशा तो था, लेकिन यह नहीं समझ पाई कि मेरे साथ ऐसा होगा।

22 अगस्त की रात उसने मुझे धमकी दी थी कि अगर मैं उसकी बात नहीं मानूंगी तो वह मुझे मारेगा। मैंने पापा को यह बात बताई तो उन्होंने कहा कि सुबह होने के बाद इस मामले का हल निकाला जाएगा। कोई इस समस्या का हल निकल पाता 23 अगस्त की सुबह शाहरुख ने पेट्रोल छिड़ककर मुझे जला डाला।

इस बीच अंकिता हत्याकांड में एक नया मोड़ सामने आया है। सोशल मीडिया पर मृतका अंकिता और आरोपी शाहरुख हुसैन की एक कार में बैठे और बांध के किनारे पिकनिक स्पॉट के पास पोज देती हुई तस्वीरें सामने आई हैं। तस्वीरें देखकर लगता है कि अंकिता की पहले से आरोपी से अच्छी दोस्ती थी। हालांकि, मृतका के परिजनों का कहना है कि फोटो के साथ छेड़छाड़ की गई है। फोटोशॉप से एडिट करके फोटो बनाई गई है। वहीं, दूसरी तरफ झारखंड हाईकोर्ट ने मामले में स्वत: संज्ञान लिया है। चीफ जस्टिस रवि रंजन की बेंच ने राज्य के गृह सचिव और डीजीपी को समन जारी कर केस की रिपोर्ट मांगी है।

ankita new
अंकिता और शाहरूख

सोशल मीडिया पर अंकिता और शाहरुख की एक साथ फोटो सामने आते ही लोगों ने हत्याकांड में सीबीआई जांच की मांग की है। लोगों का कहना है कि सामने आई दोनों की तस्वीर से लगता है कि हत्याकांड में बहुत से रहस्य छुपे हैं। इसकी सीबीआई से जांच होनी चाहिए।

मीडिया को परिवार ने बताया कि शाहरुख लंबे समय से उसके पीछे पड़ा था। एक बार अंकिता के कमरे की खिड़की में तोड़फोड़ भी की थी, जिसको लेकर अंकिता के पिता ने आरोपी शाहरुख के भाई सलमान से शिकायत भी की थी। हालांकि, मामले को समझा बुझाकर शांत करा दिया गया था।

अंकिता हत्याकांड में आरोपी के रूप में शाहरुख के सहयोगी नईम का नाम आने के बाद दोनों को पुलिस ने जेल भेज दिया है। बताया जाता है कि नईम ने ही शाहरुख को अंकिता को जलाकर मार डालने की योजना बनाई थी। उस पर अंकिता की हत्या करने के लिए शाहरुख को उकसाने का आरोप है। नईम ने ही शाहरुख को पेट्रोल खरीद कर दिया था। फिलहाल पुलिस रिमांड पर लेकर दोनों से पूछताछ कर रही है।

नईम के बारे में एक नया खुलासा यह हुआ है कि उस पर पुराना दुमका की रहने वाली एक नाबालिग ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं। यह वही नाबालिग है। जिसके अपहरण के आरोप में नईम पहले जेल जा चुका है और फिलहाल जमानत पर बाहर था। लेकिन अंकिता हत्याकांड में नईम का नाम आने के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी शाहरुख के साथ उसे भी जेल भेज दिया है। दोनों को फांसी की सजा देने की मांग चारों ओर हो रही है।

इसी बीच एक आदिवासी किशोरी के साथ दुष्कर्म और उसकी हत्या की घटना ने एक बार फिर दुमका को शर्मसार किया है। पता चला है कि लड़की काफी गरीब थी और मजदूरी कर पेट पालती थी। उसकी मजबूरी का फायदा उठाकर आरोपी राजमिस्त्री अरमान ने कई माह तक उसका यौन शोषण किया और जब वह गर्भवती हो गई तो उसकी हत्या कर दी। लड़की राजमिस्त्री के साथ ही निर्माण कार्यों में मजदूरी करती थी।

ankita new2

राजमिस्त्री पर आरोप है कि काम करने के दौरान ही दोनों के बीच संबंध बने और जब वह गर्भवती हो गई तो उसे रास्ते से हटाने के लिए उसकी हत्या कर दी। हत्या की यह घटना 1 सितंबर रात की बताई जा रही है। हत्या के बाद शव को रस्सी के सहारे पेड़ से लटका दिया ताकि यह भ्रम हो कि लड़की ने आत्महत्या की है। 2 सितंबर को स्थानीय लोग जब मॉर्निंग वाक पर निकले तो देखा कि किशोरी का शव पेड़ से लटक रहा है। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

दिग्घी (एसकेएमयू) ओपी के थाना प्रभारी सुजीत उरांव ने मौके पर पहुंच कर छानबीन शुरू कर दी थी। 2 सितंबर को शव की शिनाख्त नहीं हो पाने के कारण मामले का खुलासा नहीं हो सका। 3 सितंबर को शव की पहचान के साथ ही परिजनों के बयान और पुलिस की छानबीन से पुलिस के आला अधिकारियों ने लड़की के साथ दुष्कर्म एवं उसकी हत्या की पुष्टि की। आशंका जताई जा रही है कि लड़की के गर्भवती होने पर दोनों के बीच विवाद हुआ होगा और युवक ने उसकी हत्या कर आत्महत्या का रूप देने के लिए उसके शव को एक पेड़ से लटका दिया।

किशोरी की रेप के बाद हत्या कर शव को पेड़ से टांगने का आरोपी अरमान पाकुड़ के अमड़ापाड़ा का रहने वाला है। वह राजमिस्त्री का काम करता है और श्रीअमड़ा में किराए का घर लेकर रहता था। पुलिस के अनुसार, युवती मूलत: दुमका जिले के रानेश्वर इलाके की रहने वाली थी। परिवार वालों ने पुलिस को बताया कि अभी वह दुमका से करीब 15 किमी दूर जामा में अपने एक रिश्तेदार के यहां रहती थी। वह रोज मजदूरी करने दुमका आती थी। इसी दौरान उसका परिचय राजमिस्त्री अरमान अंसारी से हुआ था।

संताल परगना के डीआईजी सुदर्शन प्रसाद मंडल ने कहा, ‘श्रीअमड़ा में लड़की से दुष्कर्म और उसकी हत्या का मामला सामने आया है। पेड़ से लटका उसका शव बरामद किया गया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस कांड की त्वरित जांच कर एक सप्ताह में चार्जशीट का आदेश दिया गया है।’

आदिवासी लड़की के साथ दुष्कर्म एवं हत्या मामले में आरोपी अरमान के विरुद्ध भारतीय दंड विधान की धारा 302, 376, पॉक्सो एक्ट की धाराओं के साथ ही अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत दर्ज केस का अनुसंधान एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी द्वारा किया जाना है।

यौन शोषण और हत्या की इस घटना के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी किशोरी के रानीश्वर स्थित कुचियाडाली गांव पहुंचे। बाबूलाल मरांडी ने कहा कि दुमका और बांग्लादेश से सटे इलाके में लगातार इस तरह की घटनाएं हो रही हैं। ऐसे मामलों को लेकर एनआईए से जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि परिवार वालों के दर्द भरे ख़ामोश चेहरे को देख कर सब कुछ समझा जा सकता है। अपनी संतान को ऐसे राक्षसों के हाथ खोने का दर्द क्या होता है, यह मुझे भी पता है। इसे लेकर उन्होंने ट्वीट भी किया है।

(वरिष्ठ पत्रकार विशद कुमार की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

डीयू कैंपस के पास कैंपेन कर रहे छात्र-छात्राओं पर परिषद के गुंडों का जानलेवा हमला

नई दिल्ली। जीएन साईबाबा की रिहाई के लिए अभियान चला रहे छात्र और छात्राओं पर दिल्ली विश्वविद्यालय के पास...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -