Wednesday, December 7, 2022

award

पश्चिम से इतर हमें एशिया का अपना मॉडल विकसित करना होगा: राहुल गांधी और नोबेल विजेता मुहम्मद यूनुस की वार्ता

(देश और दुनिया की प्रतिष्ठित शख्सियतों से बातचीत के क्रम में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज अर्थशास्त्री और नोबेल विजेता मोहम्मद यूनुस से बात की। इसमें दोनों के बीच कोरोना और अर्थव्यवस्था समेत कई मुद्दों पर...

पुण्यतिथि पर विशेष: ‘नीरज’ तो कल यहां न होगा, लेकिन उसका गीत-विधान रहेगा

‘‘कहानी बन कर जिए हैं इस जमाने में/सदियां लग जाएंगी हमें भुलाने में/आज भी होती है दुनिया पागल/जाने क्या बात है नीरज के गुनगुनाने में।’’ इन बेमिसाल पंक्तियों के गीतकार, कवि गोपाल दास ‘नीरज‘ उस कवि सम्मेलन परम्परा के...

शोभा सिंह को मिला पहला ‘पथ के साथी’ सम्मान

नई दिल्ली। सिद्धान्त फाउंडेशन की ओर से वर्ष 2020 का पहला 'पथ के साथी' सम्मान कवि-कथाकार और संस्कृतिकर्मी शोभा सिंह को दिया जाएगा। सिद्धान्त फाउंडेशन की स्थापना साहित्यिक, सांस्कृतिक और सामाजिक गतिविधियों में सकारात्मक हस्तक्षेप के उद्देश्य से वर्ष...

कैलाश सत्‍यार्थी चिल्‍ड्रेन्‍स फाउंडेशन से जुड़े नीरज मुर्मू को ब्रिटेन का प्रतिष्ठित डायना अवार्ड सम्मान

कैलाश सत्‍यार्थी चिल्‍ड्रेन्‍स फाउंडेशन (केएससीएफ)  द्वारा संचालित गिरिडीह जिले के दुलियाकरम बाल मित्र ग्राम के पूर्व बाल मजदूर 21 वर्षीय नीरज मुर्मू को गरीब और हाशिए के बच्‍चों को शिक्षित करने के लिए ब्रिटेन के प्रतिष्ठित डायना अवार्ड से...

पुण्यतिथि पर विशेष: विजय तेंदुलकर, भारतीय रंगमंच में यथार्थवाद का चितेरा

भारतीय रंगमंच को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान दिलाने वाले विजय तेंदुलकर, देश के महान नाटककारों में से एक थे। वे एक होनहार नाटककार थे, जिन्होंने अपने नाटकों में जोखिम उठाकर हमेशा नये विचारों को तरजीह दी। रंगमंच में...

इरफान : अदाकरी की इब्तिदा और इंतिहा

मशहूर-ओ-मारूफ, ‘मकबूल’ अदाकार इरफान के अचानक इंतिकाल से ना सिर्फ बॉलीवुड-हॉलीवुड में उनके साथ काम करने वाले सह कलाकार, निर्देशक और टेक्नीशियन ग़मगीन हैं, बल्कि दुनिया भर में उनकी अदाकारी के चाहने वाले भी गम और मायूसी से डूबे...

घंटाघर से मार्च करते मैगसेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडेय गिरफ्तार, सत्याग्रहियों ने बनारस से शुरू की आगे की यात्रा

नई दिल्ली/ लखनऊ। आज जब सुप्रीम कोर्ट एक बार फिर इस बात को साफ कर रहा था कि शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करना किसी का मूल अधिकार है और उससे किसी को वंचित नहीं किया जा सकता है। उसी समय...

अभिजीत बनर्जी के नोबेल से आखिर क्यों मुंह चुरा रही है मोदी सरकार?

कल ज्यादातर लोग पीएम मोदी द्वारा अर्थशास्त्र के लिए नोबेल हासिल करने वाले अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी ईस्टर डूफ्लो को शुभकमाना संदेश दिए जाने में देरी को उनके जेएनयू लिंक से जोड़कर देख रहे थे। इस बात में...

बंगाल की एक और मेधा ने किया देश का नाम दुनिया में रौशन

आजादी के आंदोलन के महत्वपूर्ण नेताओं को देखें तो हम पाएंगे कि अधिकांश लोग देश में अंग्रेजी शिक्षा प्राप्त करके ब्रिटेन में पढ़ने गए, वहां जाकर उन्होंने देखा कि वहां सामाजिक भेदभाव लगभग नहीं था, महिलाओं की भागीदारी शिक्षा में बहुत थी यह...

जेएनयू से शिक्षा हासिल करने वाले अभिजीत बनर्जी को अर्थशास्त्र का नोबेल

नई दिल्ली। जेएनयू से शिक्षा हासिल कर चुके अभिजीत बनर्जी को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार मिला है। और यह नोबेल भी उन्हें भारत में उनके काम के लिए हासिल हुआ है। उन्हें यह पुरस्कार ईस्टर डूफ्लो और माइकेल क्रेमर...
- Advertisement -spot_img

Latest News

क्यों ज़रूरी है शाहीन बाग़ पर लिखी इस किताब को पढ़ना?

पत्रकार व लेखक भाषा सिंह की किताब ‘शाहीन बाग़: लोकतंत्र की नई करवट’, को पढ़ते हुए मेरे ज़हन में...
- Advertisement -spot_img