Wednesday, August 10, 2022

Bharatiya Janata Party

आजादी का अमृत महोत्सव में कहाँ है खेतिहर मज़दूर

आज़ादी का ख्याल ही बहुत खूबसूरत है। हालांकि यह बात अलग है कि हमारे देश में आज़ादी के 75 वर्ष तक पहुंचते पहुंचते 'आज़ाद ख्याल' नाक़ाबिल-ए- बर्दाश्त हो गया है। अगस्त महीने में हमारे देश में आज़ादी का उत्सव...

सर्विलांस स्टेट की ओर बढ़ाया सरकार ने एक और नया कदम

आपको याद होगा कि अभी कुछ दिन पहले केन्द्रीय सड़क, भूतल परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने संसद में कहा था कि आने वाले एक साल के अंदर भारत को टोल और नाकाओं से मुक्त कर दिया जाएगा।...

द कश्मीर फाइल्स देखने और सच जान लेने के बाद ?

हम सबको विवेक अग्निहोत्री का आभार व्यक्त करना चाहिए कि जो सच और घटनाएं पूरे देश और दुनियाभर की मीडिया को 1990 के बाद से ही पता था। अब उससे सरकार को भी उन्होंने अवगत करा दिया। प्रधानमंत्री जी...

कोविड का इस्तेमाल सरकार ने रेलवे के निजीकरण की प्रक्रिया को तेज करने के लिए किया

भारतीय रेलवे जैसे विशाल व्यापारिक साम्राज्य पर कोविड-19 महामारी जैसी बड़ी प्राकृतिक आपदा का तबाह करने वाला प्रभाव बहु-आयामी एवं बहुस्तरीय हो सकता है। इनमें रेलवे के वित्त पर पड़ने वाला प्रभाव प्रधान है। भारतीय रेलवे को मार्च 2020...

नार्थ ईस्ट डायरी: मणिपुर में बीरेन सिंह को दोबारा शासन चलाने का जनादेश

मणिपुर ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को फिर से चुनते हुए निरंतरता के लिए मतदान किया और इस पूर्वोत्तर राज्य का शासन पांच साल की एक और अवधि के लिए भाजपा को सौंप दिया। 2017 में पहली बार सरकार...

उत्तराखण्ड चुनाव: बहुमत आने पर भी सत्ता की गारंटी नहीं

उत्तराखण्ड विधानसभा चुनाव की मतगणना से पहले पार्टियों की जीत हार के बजाय अगली सरकार को लेकर चर्चा तेज हो गयी है। चर्चा यह भी है कि वोटों की गिनती में चाहे जो भी आगे हो मगर सरकार उसी...

उत्तर प्रदेश बदलाव की राह पर 

उत्तर प्रदेश का चुनाव अपने आखिरी पड़ाव पर है। पहले तो यह लग रहा था कि सिर्फ पश्चिमी उ.प्र. में ही जहां किसान आंदोलन का असर है, समाजवादी पार्टी व राष्ट्रीय लोक दल का गठबंधन भारतीय जनता पार्टी पर...

राजनीतिक अर्थशास्त्र के आईने में भारतीय अर्थव्यवस्था का संकट

भारत की अर्थव्यवस्था जिस हालात में पहुंच चुकी है, उसे अब कई सारे नाम दिये जा रहे हैं। लेकिन, इस बात से अर्थव्यवस्था की राजनीति पर कोई फर्क पड़ता दिख नहीं रहा है। इसे आप याराना पूंजीवाद कहिए या...

चंबल के कार्पोरेटीकरण के खिलाफ आंदोलन की तैयारी

अटल प्रोग्रेस वे के नाम पर कोई 404 किलोमीटर लंबी “उत्कृष्ट सड़क" के निर्माण का काम प्रस्तावित है। यह सड़क मध्यप्रदेश के भिण्ड जिले में अटेर से शुरू होगी और मुरैना से गुजरते हुए श्योपुर कलां होकर कोटा तक...

यूपी चुनाव: अयोध्या की कशमकश क्या भाजपा को भारी पड़ सकती है?

यूपी में चुनावी बुखार की शुरुआत जनवरी में चुनावों की तारीख के ऐलान के बाद से ही शुरू हो गई थी। हर कोई जानने को उत्सुक था कि यूपी में इस बार क्या होने वाला है। इसका सबसे बड़ा...
- Advertisement -spot_img

Latest News

शिशुओं का ख़ून चूसती सरकार!  देश में शिशुओं में एनीमिया का मामला 67.1%

‘मोदी सरकार शिशुओं का ख़ून चूस रही है‘ यह पंक्ति अतिशयोक्तिपूर्ण लग सकती है पर मेरे पास इस बात...
- Advertisement -spot_img