Wednesday, August 10, 2022

hate

मित्रता में चाटुकारों से बेहतर हैं निंदक 

दोस्ती की समझ में आने वाली कोई वजह नहीं होती। दोस्ती न होने या दोस्ती टूट जाने की वजह होती है। दोस्ती अगर किसी वजह से है तो फिर इसका अर्थ है कि दो लोगों के बीच सीधा सम्बन्ध...

अब मोदी लगाना चाहते हैं पसमांदा मुसलमानों में सेंध!

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कई अलग-अलग तरीकों से अपनी चुनावी ताकत बढ़ाती रही है। पार्टी को मिलने वाले वोटों का प्रतिशत बढ़ता जा रहा है। परंतु वह इससे संतुष्ट नहीं है। वह अन्य पार्टियों के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को दलबदल...

छींटे मारने की जगह उन्माद की आग को भड़का रहा है आरएसएस

उदयपुर के बाद अमरावती में हुयी कथित नफरती हत्या हालांकि अभी पैसे की उधारी और लेन देन के विवाद सहित कई पहलू जांच के दायरे में हैं लेकिन उसके अभियुक्त की वहाँ की सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक...

क्या उदयपुर से होगा नई समझ का उदय?

राजस्थान के उदयपुर में जो हुआ, उसके बारे में कोई लिखे भी तो क्या! इस देश की दुर्दशा कहाँ तक होगी, इसका अंदाजा लगाना ही मुश्किल है। धर्म या किसी विचारधारा के नाम पर होने वाली हिंसा मानव इतिहास...

नफरती बयानबाज़ी और सरकार तथा बीजेपी का डैमेज कंट्रोल 

नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के बयानों को लेकर पहले से ही अरब देशों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। वहीं अब ऑस्ट्रेलिया में बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या ने, ऑस्ट्रेलिया-इंडिया यूथ डायलॉग समिट में, इस्लाम को लेकर...

सांप्रदायिक नफरत के नगाड़े पर बज रहा है शर्मिंदगी का डंका

देश में पिछले आठ साल से सत्ता और संगठन के स्तर पर जारी सांप्रदायिक नफरत फैलाने के अभियान को लेकर पहली बार केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बचाव की मुद्रा में दिखाई...

धीमे-धीमे तेज से तेजतर होते हुए तीव्रतम होती नफरती की आँधी

70 के दशक में तब की जनता सरकार के विदेश मंत्री के रूप में अटल बिहारी वाजपेयी, कहा जाता है कि, प्रोटोकॉल तोड़कर दुनिया के मशहूर शायर फैज़ अहमद फैज़ से मिलने उनके घर गए थे। फैज़ से मुलाक़ात...

धर्म संसद में चव्हाणके के हेट स्पीच को क्लीनचिट देने पर सुप्रीम कोर्ट में दिल्ली पुलिस की फजीहत

उच्चतम न्यायालय में दिल्ली पुलिस की फजीहत जारी है। दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को दिल्ली धर्म संसद से संबंधित कथित अभद्र भाषा मामले में एक नया हलफनामा दायर करने पर सहमति व्यक्त की, जब सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस से...

कश्मीर फाइल्सः दो राष्ट्र के सिद्धांत और नाजीवाद का खतरनाक मिश्रण

एक बड़े शहर के मल्टीप्लेक्स में 'कश्मीर फाइल्स' देखने गया तो पहला अहसास यही हुआ कि देश की लोकतांत्रिक संस्थाओं तथा समाचार माध्यमों को निगल जाने के बाद अब भाजपा तथा संघ परिवार के हाथ सिनेमा जैसा शक्तिशाली माध्यम...

जनचौक स्पेशल: नफरत का कैराना नहीं, जीतेगा प्रेम का ‘किराना’

कैराना। पंडित भीमसेन जोशी की पुण्यतिथि पर आए साहित्यकार शैलेंद्र चौहान के लेख में 'किराना घराना' के जिक्र के साथ ही मेरे जेहन में कैराना जाने की ख्वाहिश पैदा हो गयी थी। और वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के चुनावी...
- Advertisement -spot_img

Latest News

शिशुओं का ख़ून चूसती सरकार!  देश में शिशुओं में एनीमिया का मामला 67.1%

‘मोदी सरकार शिशुओं का ख़ून चूस रही है‘ यह पंक्ति अतिशयोक्तिपूर्ण लग सकती है पर मेरे पास इस बात...
- Advertisement -spot_img