Wednesday, December 7, 2022

law

गांधी की दांडी यात्रा-12: गांधी के नमक कानून तोड़ने के साथ ही बौखला गयी ब्रिटिश सत्ता

5 अप्रैल 1930 को, गांधी और उनके सत्याग्रही सहयात्री, दांडी गांव पहुंच गए थे। दांडी में, उनका स्वागत करने के लिए, सरोजिनी नायडू, वहां पहले ही, पहुंच चुकी थीं। सरोजिनी नायडू (13 फरवरी 1879 - 2 मार्च 1949) का...

कानून मंत्री ने किया न्यायपालिका पर हमला, कॉलेजियम सिस्टम पर उठाये सवाल 

जस्टिस डी वाई चंद्रचूड के अगले चीफ जस्टिस बनाये जाने की घोषणा के साथ ही मोदी सरकार ने न्यायपालिका पर दबाव बनाने के लिए पेशबंदी के तहत हमला शुरू कर दिया है।केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री किरेन रिजिजू ने...

नोटबंदी का जिन्न बोतल से बाहर निकला, केंद्र से सम्बन्धित दस्तावेज सुप्रीम कोर्ट ने मांगा

सुप्रीम कोर्ट की एक संविधान पीठ ने बुधवार को 500 रुपये और 1000 रुपये के नोटों के 2016 के विमुद्रीकरण के खिलाफ याचिकाकर्ताओं द्वारा उठाए गए कानूनी तर्कों की जांच करने का फैसला किया, केंद्र के इस तर्क को...

आजमगढ़ ग्रामीण अंचल पहुंची मजदूर-किसान-नौजवान अधिकार यात्रा

आजमगढ़। हर परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी, एक करोड़ रिक्त पड़े पदों को भरने, एमएसपी की कानूनी गारंटी, महंगाई पर रोक लगाने, किसानों को सस्ते दर पर खाद बीज आदि मुहैया कराने व मुफ्त बिजली, लोकतंत्र की...

कानून के शासन के लिए न्यायपालिका की स्वतंत्रता ज़रूरी: जस्टिस बीवी नागरत्ना

सुप्रीम कोर्ट की जज जस्टिस बीवी नागरत्ना ने शनिवार को कहा कि कानून का शासन न्यायपालिका की स्वतंत्रता पर बहुत निर्भर है। अदालतों का यह आश्वासन कि यह लोकतंत्र की रक्षा करेगा और इसे उज्ज्वल बनाए रखेगा, महत्वपूर्ण है, प्रत्येक नागरिक का...

चंदौली: मंदिर में प्रवेश करने पर पहले ब्राह्मणों ने दलित को पीटा, फिर फर्जी मुकदमे में पुलिस ने पीड़ित का ही कर दिया चलान

चंदौली (यूपी)। उत्तर प्रदेश के चंदौली में कानून व्यवस्था बेपटरी हो गई है, और पीड़ित जनता को न्याय के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। मनराजपुर में दबिश के नाम पर दारोगा द्वारा युवती से कथित बलात्कार के बाद...

मेरी रॉयः एक विदुषी जो सामाजिक योद्धा भी थीं

केरल की विख्यात शिक्षाविद् और महिला अधिकार कार्यकर्ता मेरी रॉय (1933-2022) नहीं रहीं। वह सुप्रसिद्ध अंग्रेजी लेखिका और विचारक अरुंधति रॉय की मां थीं।  मेरी रॉय से हमारी पहली मुलाकात सन् 2006 में हुई। उनका लंबा इंटरव्यू किया, जो उसी साल...

जस्टिस रमना ने राजद्रोह कानून पर लिया था ऐतिहासिक निर्णय पर संवैधानिक मामलों पर रही चुप्पी

देश के 48वें मुख्‍य न्‍यायाधीश जस्टिस एन वी रमना आज रिटायर हो गये। उन्‍होंने 24 अप्रैल, 2021 को सीजेआई (चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया) के रूप में अपने पद की शपथ ली थी। रमना ने जस्टिस बोबडे की जगह ली थी, जो...

1992 की रिहाई नीति सुप्रीम से अमान्य हो चुकी है, फिर किस कानून से रिहा हुए बिल्किस बानो के रेपिस्ट?

क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि वर्ष 1992 के जिस प्रावधान को उच्चतम न्यायालय ने वर्ष 2012 में रद्द कर दिया हो उस प्रावधान के तहत उच्चतम न्यायालय की एक पीठ मई 2022 में एक जनरल आदेश पारित करे कि इस प्रावधान...

सिब्बल, दुष्यंत दवे की कड़ी में प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट के फैसलों की तीखी आलोचना की

वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल और दुष्यंत दवे की कड़ी में मानवाधिकारों के लिए लड़ने वाले देश के मशहूर वकील प्रशांत भूषण ने भारत के सुप्रीम कोर्ट की तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की...
- Advertisement -spot_img

Latest News

आरबीआई ने नोटबंदी पर केंद्र सरकार के फैसले के आगे घुटने टेक दिए: पी चिंदबरम

सुप्रीम कोर्ट में नोटबंदी पर दायर याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान, याचिकाकर्ता का पक्ष रखते हुए  सुप्रीम के वरिष्ठ...
- Advertisement -spot_img