Saturday, October 1, 2022

politics in india

भारत में राजनीतिक दल सांप्रदायिकता को उत्प्रेरक के तौर पर इस्तेमाल करते रहे हैं!

भारत में जब भी सांप्रदायिकता की बात चलती है तो उसका आशय हिन्दू-मुस्लिम सम्बंधों में आपसी द्वेष एवं घृणा से ही लिया जाता है। यदि सांप्रदायिक समस्या के समाधान की भी बात की जाती है तो भी हिन्दू-मुस्लिम विरोध...
- Advertisement -spot_img

Latest News

अगर उत्तराखण्ड में मंत्री नहीं बदले तो मुख्यमंत्री का बदलना तय

भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बी.एल. सन्तोष का 30 नवम्बर को अचानक देहरादून आना और बिना रुके ही कुछ...
- Advertisement -spot_img