Thursday, August 18, 2022

rajasthan

बर्बरता की गला काट होड़

राजस्थान के उदयपुर में एक दर्जी कन्हैयालाल की दो उन्मादियों द्वारा अत्यंत बर्बरता के साथ की गयी ह्त्या ने पूरे देश को स्तब्ध और विचलित कर दिया है। दोनों हत्यारे कपड़े का नाप देने के बहाने कन्हैयालाल टेलर की...

क्या उदयपुर से होगा नई समझ का उदय?

राजस्थान के उदयपुर में जो हुआ, उसके बारे में कोई लिखे भी तो क्या! इस देश की दुर्दशा कहाँ तक होगी, इसका अंदाजा लगाना ही मुश्किल है। धर्म या किसी विचारधारा के नाम पर होने वाली हिंसा मानव इतिहास...

आखिर क्या है कांग्रेस पार्टी का संकट?

सन् 2020, 2021 और 2022 के विधान सभा चुनावों के परिणामों के यदि देखें तो ये परिणाम कांग्रेस पार्टी के लिए काफी निराशाजनक रहे हैं। 2019 के विधान सभा चुनावों में कांग्रेस की छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश में...

राजस्थान विश्वविद्यालय में 6-7 हजार रुपये प्रति माह के ठेके पर सालों से काम कर रहे हैं कर्मचारी

जयपुर। राजस्थान यूनिवर्सिटी के संविदा कर्मचारी बहुत सालों से अपने वेतन में बढ़ोत्तरी और स्थाईकरण की मांग कर रहे हैं अपनी मांगों को लेकर कई बार हड़ताल पर भी जा चुके हैं लेकिन कोरे आश्वासन के आलावा कुछ नहीं...

स्मृति दिवस: मामा बालेश्वर ने कराया था रियासतों में बेगारी प्रथा और स्वतंत्र भारत में जागीरदारी प्रथा का खात्मा

मामाजी बालेश्वर दयाल जी का 26 दिसंबर को 23 वां स्मृति दिवस है। आज 25 दिसंबर की रात मामा जी के 25 हजार से ज्यादा अनुयायी राजस्थान से 3 दिनों से पदयात्रा करते हुए बामनिया भील आश्रम पहुंचेंगे, जहां...

अंबानी और आरएसएस नेता की फाइल क्लियर करने के लिये मुझे 300 करोड़ रुपये की पेशकश की गई: सत्यपाल मलिक

"जब मैं जम्मू कश्मीर के गवर्नर के पद पर था तब अंबानी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक से जुड़े एक युवक की फाइल को क्लियर करने के एवज में मुझे 300 करोड़ रुपए की घूस की पेशकश की गई थी"...

पैंडोरा पेपर्स में राजस्थान के दो बड़े राजघरानों के महाराजाओं के भी नाम

पैंडोरा पेपर्स मामले में इंडियन एक्सप्रेस की खोजी रिपोर्ट के अनुसार उद्योगपति, भगोड़े कारोबारी, खिलाड़ी और बॉलीवुड की हस्तियों के बाद अब राजघरानों के नाम सामने आ रहे हैं। राजस्थान के दो बड़े शाही परिवारों, जोधपुर के पूर्व महाराजा...

राजस्थान और केरल में सर्पदंश से हत्या का नया ट्रेंड

दुनियाभर में सर्पदंश से मौत की हर साल करीब 50 लाख घटनाएं होती हैं। इनमें से करीब एक लाख लोगों की मौत हो जाती है। इनमें से तकरीबन आधी मौतें भारत में होती हैं। डब्लूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक...

कम नहीं हो रहीं महिलाओं के प्रति दरिंदगी की घटनाएं

बलात्कार भारत में महिलाओं के खिलाफ चौथा सबसे आम अपराध है। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की 2019 की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, देश भर में 32033  बलात्कार के मामले दर्ज किए गए, यानी प्रतिदिन औसतन 88 मामले दर्ज...

आपराधिक मामले छिपाने वाला कर्मचारी नियुक्ति के अधिकार का हकदार नहीं

उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को एक फैसले में कहा, अगर कोई कर्मचारी अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी छिपाता है या झूठा शपथपत्र देता है तो वह नियुक्ति के अधिकार का हकदार नहीं रहता। राजस्थान हाईकोर्ट के 2019 के फैसले को खारिज करते...
- Advertisement -spot_img

Latest News

शीर्ष पदों पर बढ़ता असंतुलन यानी संघवाद को निगलता सर्वसत्तावाद 

देश में बढ़ता सर्वसत्तावाद किस तरह संघवाद को क्रमशः क्षतिग्रस्त कर रहा है, इसके उदाहरण विगत आठ वर्षों में...
- Advertisement -spot_img