Friday, August 12, 2022

reject

अभी भी सुप्रीम कोर्ट से कोई उम्मीद बाक़ी है क्या?

जब आप न्यायपालिका को सर्वोच्च स्थान पर एक स्वतंत्र निर्णय लेने वाली और राज्य को इसके निर्णय बाध्यकारी मानने के लिए मानते है तो आपके सारे भ्रम यहाँ आकर टूट जाते हैं। ऊपर से तुर्रा ये कि जिनके टैक्स, पसीने...
- Advertisement -spot_img

Latest News

मछुआरों को भारत-पाकिस्तान शत्रुता में बंधक नहीं बनाया जा सकता

“यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि ऐसे समय में जब पाकिस्तान और भारत आजादी के 75 वें वर्ष का जश्न मना...
- Advertisement -spot_img