Monday, August 15, 2022

starvation death

झारखंड में भूख और गरीबी से एक और मौत

झारखंड में भूख और गरीबी से हो रही मौतें जारी है। सरकार बदल गई, लेकिन जनता के प्रति प्रशासनिक अफसरों की स्थिति जस की तस है। जब भी कहीं भूख और गरीबी से मौत होती है, तो सबसे पहले...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कार्पोरेट्स के लाखों करोड़ की कर्जा माफ़ी क्या रेवड़ियां नहीं हैं मी लार्ड!

उच्चतम न्यायालय ने अभी तक यह तय नहीं किया है कि फ्रीबीज या रेवड़ियां क्या हैं, मुफ्तखोरी की परिभाषा क्या है? सुप्रीम...
- Advertisement -spot_img