Wednesday, August 10, 2022

study

पुस्तकों को सेल्फ़ में क़ैद न करो, उन्हें बांटो!

अंग्रेजी के एक बहुत बड़े लेखक थे स्टीवेंसन।  वे एक बार बस में सफर कर रहे थे और कोई पुस्तक पढ़ने में तल्लीन थे। जब उनका स्टाप आया तो वे फट से उतर गए मगर अपनी पुस्तक वहीं छोड़...

कमला भसीन का स्त्री संसार

भारत में महिला अधिकार आंदोलन की दिग्गज नारीवादी कार्यकर्ता, कवयित्री और लेखिका कमला भसीन का शनिवार सुबह निधन हो गया वह 75 वर्ष की थीं। वह कैंसर से पीड़ित थीं। भसीन का निधन दिल्ली के एक अस्पताल में हुआ। भसीन...

बीजापुर: बच्चों को नक्सली बताकर जेल भेजे जाने के खिलाफ लोगों ने भीगते हुए किया प्रदर्शन

बीजापुर। नक्सल प्रभावित इलाकों में ग्रामीणों और जवानों के बीच तकरार का सिलसिला जारी है। अब बीजापुर के दो गांव के ग्रामीणों ने जवानों पर स्कूली छात्रों को नक्सली बताकर जबरन गिरफ्तार करने का आरोप लगाया है। आक्रोश इस...

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय खोलने की मांग को लेकर विद्यार्थी धरने पर बैठे

वाराणसी। देश में महामारी के दौरान के विभिन्न संस्थान व विश्वविद्यालय महामारी रोकथाम के नाम पर बंद कर दिए गए थे। समय के साथ औद्योगिक संस्थान और अन्य संस्थानों को खोल कार्यों को सुचारू रूप से जारी कर दिया...

पुलिस छावनी में बदलते विश्वविद्यालय परिसर

सत्तर के दशक के मध्य जब मैं हरियाणा के एक छोटे गांव से दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में पढ़ने आया तो कॉलेज या विश्वविद्यालय परिसर में पुलिस या प्राइवेट सुरक्षा गार्ड नहीं होते थे। कॉलेज, हॉस्टल और फैकल्टी के गेट...

खूनी हमलों में 2000-2018 के बीच 65 पत्रकारों ने गंवाई जान, ‘साइलेंसिंग जर्नलिस्ट्स इन इंडिया’ किताब में विस्तृत रिपोर्ट

नई दिल्ली। देश में प्रेस की आज़ादी एक चुनौतीपूर्ण दौर से होकर गुज़र रही है जब पत्रकारों पर हमले बढ़े हैं और उन्हे अपने काम से रोकने के लिए मुकदमों में फंसाया जाना जारी है। प्रेस की आज़ादी के...
- Advertisement -spot_img

Latest News

शिशुओं का ख़ून चूसती सरकार!  देश में शिशुओं में एनीमिया का मामला 67.1%

‘मोदी सरकार शिशुओं का ख़ून चूस रही है‘ यह पंक्ति अतिशयोक्तिपूर्ण लग सकती है पर मेरे पास इस बात...
- Advertisement -spot_img