Sunday, September 25, 2022

Unlawful Activities (Prevention) Act (UAPA))

सुप्रीम कोर्ट वकीलों और पत्रकारों के खिलाफ लगाए गए यूएपीए एक्ट को चुनौती देने वाली याचिका की तत्काल सुनवाई करेगा

उच्चतम न्यायालय त्रिपुरा हिंसा के संदर्भ में वकीलों और पत्रकारों के विरुद्ध लगाए गए यूएपीए एक्ट (UAPA ACT) पर जल्दी ही सुनवाई करेगा। उच्चतम न्यायालय ने गुरुवार को त्रिपुरा में हालिया सांप्रदायिक हिंसा के संबंध में पत्रकारों, वकीलों और...

फासिस्ट हो गई है केंद्र की मोदी सत्ता!

सभ्य और लोकतांत्रिक दुनिया में एक बहुत ही घृणित व बदनाम 'फासिस्ट' शब्द इटली के सिसिली द्वीप के 19वीं सदी के क्रांतिकारियों को पुकारे जाने वाले नाम 'फास़ेज' शब्द से बना है, परन्तु आज फासिस्ट शासन का शब्दार्थ बहुत...

त्रिपुरा में वक़ील, पत्रकारों और नागरिकों के खिलाफ फर्जी यूएपीए के दर्ज मुकदमों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

आज ऐक्टू, आइसा, इनौस ने त्रिपुरा में फ़र्जी तरीके से वकीलों व पत्रकारों पर दर्ज यूएपीए (UAPA) के खिलाफ इलाहाबाद के सिविल लाइन्स स्थित गिरिजाघर पर धरना प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन को संयुक्त रूप से सम्बोधित करते हुए वक्ताओं...

बीजेपी आईटी सेल के ट्वीट से उमर खालिद पर दिल्ली पुलिस ने लगा दिया यूएपीए

क्या भारत सरकार के गृह मंत्रालय, दिल्ली पुलिस, भाजपा आईटी सेल और उसके मुखिया अमित मालवीय तथा अर्णब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक और मुकेश अम्बानी ग्रुप के चैनल न्यूज़ 18 के बीच दुरभिसंधि है, कि एक्टिविस्टों को किस तरह...

सुतली बम के आतंकवादी अपराध की श्रेणी में रखे जाने से एनआईए कानून का उद्देश्य विफल: मद्रास हाईकोर्ट

मद्रास हाईकोर्ट के जस्टिस पी.एन. प्रकाश, जस्टिस वी. शिवगनम और जस्टिस आर. एन. मंजुला की पूर्ण पीठ ने कहा है कि हमारी सुविचारित राय में, एनआईए अधिनियम का उद्देश्य विफल हो जाएगा, यदि देशी बम मामलों के सभी और...

अदालतों से एक छोटा सा सवाल

सुप्रीम कोर्ट या हाई कोर्ट के जज जब किसी लोअर कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील को सुनने के बाद अगर फैसले को खारिज करते हैं तो अक्सर कहते हैं कि जज डिड नॉट अप्लाई हिज माइंड, यानी जज...

आधुनिक काल के संत स्टेन स्वामी

गत 05 जुलाई 2021 को भारतीय मानवाधिकार आंदोलन ने अपना एक प्रतिबद्ध, सिद्धांतवादी और अथक योद्धा खो दिया। फॉदर स्टेनीलॉस लोरडूस्वामी, जो स्टेन स्वामी के नाम से लोकप्रिय थे, ने मुंबई के होली स्पिरिट अस्पताल में अंतिम सांस ली। जिस...

अदालतें धरना प्रदर्शन को नहीं मान रहीं आतंकी कार्रवाई, अखिल गोगोई के मामले में यूएपीए ख़ारिज

लगता है यूएपीए के सितारे गर्दिश में चल रहे हैं। एक बार फिर एनआईए को यूएपीए के मामले में मुंह की खानी पड़ी हैं। दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा गैर-कानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) को लेकर हाल ही में की गई...

यूएपीए के आरोपों को सिद्ध न कर पाने पर क्यों नहीं होती है जांच एजेंसियों के खिलाफ कार्रवाई

देश में जाँच एजेंसियां हर दूसरे तीसरे मामले में यूएपीए या राष्ट्रद्रोह के आरोप तो लगाती हैं पर अदालत में सिद्ध नहीं कर पातीं। इसके लिए जिम्मेदार जाँच एजेंसियों और आधिकारियों पर कारवाई क्यों नहीं होती ? कोई चार...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सुभाष चंद्र बोस के मामले में तथ्यों को तोड़-मरोड़ रहे हैं मोदी

इस साल 8 सितंबर, 2022 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सुभाषचन्द्र बोस के विचारों और उनकी राजनीति को तोड़-मरोड़...
- Advertisement -spot_img