Saturday, October 1, 2022

हरियाणा भर में किसानों का प्रदर्शन, चक्का जाम

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

चंडीगढ़/रोहतक। केंद्र सरकार के तीन कृषि अध्यादेशों के विरोध में इतवार दोपहर को किसानों ने हरियाणा भर में चक्का जाम और प्रदर्शन शुरू कर दिए हैं। कुछ जगहों पर पुलिस जाम खुलवाने की कोशिश भी करती नज़र आ रही है।

भारतीय किसान यूनियन (चढूनी) के आह्वान पर किसानों ने 10 सितंबर को कुरुक्षेत्र जिले में दिल्ली-चंडीगढ़ हाइवे पर स्थित पीपली कस्बे में रैली आयोजित की थी। इस रैली को रोकने के लिए सरकार ने जगह-जगह नाकेबंदी की थी। पीपली में लाठीचार्ज ने किसानों का गुस्सा बढ़ा दिया था। हरियाणा और पंजाब में किसानों में बढ़ते गुस्से के कारण ही पंजाब के बादल परिवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल से अलग होने का फैसला लेने के लिए मज़बूर होना पड़ा था।

सिरसा में किसानों का प्रदर्शन।

चढूनी की भाकियू, तीनों प्रमुख वामपंथी किसान संगठनों, भाकियू अम्बावत व दूसरे कई छोटे-बड़े किसान संगठनों व किसान नेताओं ने आज इतवार दोपहर को हरियाणा भर में चक्का जाम का ऐलान किया था। प्रदेश के विभिन्न जिलों में दोपहर से पहले ही किसानों ने प्रदर्शन और जाम शुरू कर दिए थे। 

यमुनानगर जिले में अंबाला-सहारनपुर रोड पर स्थित टोल के पास किसानों ने चक्का जाम कर दिया। पुलिस ने जाम खुलवाने की कोशिश की तो किसान नाराज हो गए। ख़बर लिखे जाने तक किसानों का प्रदर्शन जारी है।

सिरसा के गाँव में पंजुआना में फाज़िल्का-सिरसा-हिसार-दिल्ली नेशनल हाइवे पर किसानों का बड़ा जमावड़ा है। हाइवे जाम कर किसान जोरदार प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शनकारी किसानों का कहना है कि आज का चक्का जाम सरकार के लिए संदेश है कि अध्यादेश वापस नहीं लिए गए तो देशभर में आंदोलन फैलता जाएगा।

रोहतक अनाज मंडी में सभा।

जींद जिले में किसानों ने अलेवा कस्बे में सड़क जाम कर रखी है। जींद जिले के किसान आंदोलनों के लिए चर्चित कंडेला गाँव में भी किसानों का प्रदर्शन और जाम जारी है। अंबाला में हिसार रोड पर नग्गल के पास किसानों ने रास्ता रोक रखा है। साहा में भी किसान सड़क रोक कर प्रदर्शन कर रहे हैं। फतेहाबाद में भी किसानों ने बड़ी संख्या में एकजुट होकर प्रदर्शन शुरू कर दिया है। 

रोहतक में किसानों का प्रदर्शन।

रोहतक जिले में नेशनल हाइवे पर बहु अकबरपुर गाँव में खाटू श्याम मंदिर के पास जाम लगा दिया है। रोहतक अनाज मंडी में भी भाकियू, अखिल भारतीय किसान सभा व दूसरे किसान संगठनों व आढ़ती यूनियनों की संयुक्त सभा जारी है। भाजपा से बागी होकर महम से आज़ाद चुनाव लड़कर एमएलए बने बलराज कुंडू ने भी सभा में पहुंचकर आंदोलन को समर्थन व्यक्त किया है।

रोहतक में तैनात पुलिसकर्मी।

रोहतक-पानीपत रोड पर बामनवास गाँव में किसानों ने सड़क पर बीचों-बीच ट्रैक्टर ट्रॉली खड़ी कर रास्ता रोक दिया है। रोहतक के लघु सचिवालय परिसर में फोर्स जमा है जिसे अधिकारी दिशा-निर्देश दे रहे हैं।

यमुनानगर जिले में अंबाला-सहारनपुर रोड पर प्रदर्शन।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

अगर उत्तराखण्ड में मंत्री नहीं बदले तो मुख्यमंत्री का बदलना तय

भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बी.एल. सन्तोष का 30 नवम्बर को अचानक देहरादून आना और बिना रुके ही कुछ...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -