Wednesday, December 7, 2022

आजमगढ़ ग्रामीण अंचल पहुंची मजदूर-किसान-नौजवान अधिकार यात्रा

Follow us:
Janchowk
Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

आजमगढ़। हर परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी, एक करोड़ रिक्त पड़े पदों को भरने, एमएसपी की कानूनी गारंटी, महंगाई पर रोक लगाने, किसानों को सस्ते दर पर खाद बीज आदि मुहैया कराने व मुफ्त बिजली, लोकतंत्र की रक्षा, ईडी सीबीआई के दुरुपयोग को रोकने और यूएपीए, देशद्रोह जैसे काले कानूनों को खत्म करने जैसे ज्वलंत मुद्दों को लेकर पूर्वांचल किसान यूनियन के बैनर तले परसों गांधी प्रतिमा आजमगढ़ से शुरू हुई मजदूर किसान नौजवान अधिकार यात्रा कल जनपद के ग्रामीण अंचल में पहुंची। 

मुहम्मदपुर, गंभीर पुर, ठेकमा, सरायमोहन, लालगंज, बैरीडीह आदि तमाम गांवों, कस्बों में लोगों ने यात्रा का समर्थन व स्वागत किया। 

इस दरम्यान बड़े पैमाने पर लोगों से किसानों, युवाओं व स्थानीय नागरिकों से संवाद हुआ, जगह-जगह बैठकें व नुक्कड़ सभाओं का भी आयोजन हुआ। पूर्वांचल किसान यूनियन के अध्यक्ष योगी राज सिंह व महासचिव वीरेन्द्र यादव ने कहा कि आज़मगढ़ बुनकरी, ब्लैक पाटरी, सूती वस्त्र, कुटीर उद्योगों और फूलपुर के लाल मिर्च के लिए जाना जाता था लेकिन आज सब कुछ चौपट हो गया। पूर्वांचल का विकास करने के लिए बुनियादी ढांचे को मजबूत करने, खेती में निवेश बढ़ाने और खेती आधारित उद्योगों को विकसित करने के बजाय पूर्वांचल एक्सप्रेस वे को विकास का माडल के बतौर पेश किया जा रहा है जिसकी हकीकत पहली ही बारिश में सामने आ गई। 

rajeev2

युवा मंच प्रदेश संयोजक राजेश सचान ने कहा कि इस पूरे अंचल में आजीविका का जबरदस्त संकट होने से युवाओं का बड़े पैमाने पर पलायन हो रहा है। खेती आधारित उद्योगों और कुटीर उद्योगों को विकसित और शिक्षा व स्वास्थ्य के इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत कर रोजगार सृजन हो सकता है लेकिन सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार की गारंटी करने के अपने संवैधानिक दायित्व से पल्ला झाड़ लिया है और मौजूदा संकट के जिम्मेदार आर्थिक नीतियों में बदलाव के लिए  तैयार नहीं है। 

रिहाई मंच के महासचिव राजीव यादव, भगतसिंह यूथ फ्रंट के अध्यक्ष हरीश मिश्रा, सामाजिक न्याय मंच के राजेन्द्र यादव ने कहा कि आज संविधान और लोकतंत्र खतरे में है। संवैधानिक संस्थाओं को नष्ट किया जा रहा है। कहा कि भाजपा की नफरत की राजनीति के बर खिलाफ बुनियादी सवालों को विमर्श में लाने की जरूरत है। यात्रा में प्रस्ताव लेकर इविवि में 400 फीसद फीस वृद्धि के सवाल पर छात्रों के आंदोलन का समर्थन किया गया। 

वक्ताओं ने 12 अक्टूबर को वाराणसी में शास्त्री घाट में यात्रा के प्रथम चरण के समापन कार्यक्रम में पहुंचने की अपील की। इस मौके पर पूर्वांचल किसान यूनियन के अध्यक्ष योगी राज सिंह, महासचिव वीरेन्द्र यादव, युवा मंच प्रदेश संयोजक राजेश सचान, भगतसिंह यूथ फ्रंट के अध्यक्ष हरीश मिश्रा (बनारस वाले मिश्रा जी), सामाजिक न्याय मंच के राजेंद्र यादव, राफे सोहराब, बीडीसी चंदन यादव, एडवोकेट विनोद यादव, अवधेश यादव, हाजी कमाल, उमेश चौधरी, मनीष चौधरी उर्फ लालू, शेखर सरोज, इंदल सरोज, विजम राम पूर्व ग्राम प्रधान केदली पुर, राजाराम पासी समेत सैकड़ों किसान, युवा और स्थानीय नागरिक मौजूद रहे।

(प्रेस विज्ञप्ति पर आधारित।)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

क्यों ज़रूरी है शाहीन बाग़ पर लिखी इस किताब को पढ़ना?

पत्रकार व लेखक भाषा सिंह की किताब ‘शाहीन बाग़: लोकतंत्र की नई करवट’, को पढ़ते हुए मेरे ज़हन में...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -