Tuesday, October 4, 2022

dave

दुष्यंत दवे ने सुप्रीम कोर्ट से पूछा- क्या हिजाब पहनने से भारत की एकता और अखंडता को खतरा है?

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को कर्नाटक हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई जारी रखी, जिसमें मुस्लिम छात्राओं द्वारा शैक्षणिक संस्थानों में हिजाब पहनने पर प्रतिबंध को बरकरार रखा गया था। याचिकाकर्ताओं की ओर से सीनियर...

सिब्बल के बाद अब दुष्यंत दवे ने जकिया जाफ़री,पीएमएलए फैसले और मास्टर ऑफ़ रोस्टर पर सवाल उठाए

अभी पिछले ही हफ्ते वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने पीपुल्स ट्रिब्यूनल में गुजरात दंगों में राज्य के पदाधिकारियों को एसआईटी की क्लीन चिट को चुनौती देने वाली जकिया जाफरी की याचिका को खारिज करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले...

पेगासस फैसला ऐतिहासिक, जस्टिस रवींद्रन समिति के प्रमुख के लिए उत्कृष्ट विकल्प: दुष्यंत दवे

सुप्रीम कोर्ट बार एसोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष दुष्यंत दवे ने कहा है कि पेगासस जासूसी मामले में उच्चतम न्यायालय का निर्णय ऐतिहासिक है और "अदालत के इतिहास में एक वाटरशेड" है। दवे ने कहा कि उच्चतम न्यायालय नागरिकों के...

जस्टिस अरुण मिश्रा! न्यायाधीश सरकार का लठैत नहीं होता

सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष दुष्यंत दवे को जब जस्टिस अरुण मिश्रा के फेयरवेल में नहीं बोलने दिया गया तो उन्होंने वह वक्तव्य सार्वजनिक कर दिया जिसे वह उस आयोजन में रखने वाले थे। इस वक्तव्य में उन्होंने...

जस्टिस मिश्रा के विदाई समारोह में न बोलने देने पर दवे ने चीफ जस्टिस को लिखा पत्र, कहा- बार का अपमान है यह

नई दिल्ली। (सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा आज रिटायर हो रहे हैं। उनके लिए  चीफ जस्टिस की कोर्ट नंबर 1 में विदाई समारोह आयोजित किया गया था। इस आयोजन में चीफ जस्टिस समेत सभी लोगों ने बारी-बारी से...

प्रशांत भूषण को अलग-थलग करके प्रताड़ित करने का प्रयास: बार अध्यक्ष दुष्यंत दवे

सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष दुष्यंत दवे का कहना है कि ऐसा लगता है जैसे प्रशांत भूषण को अलग-थलग करके प्रताड़ित करने का प्रयास किया जा रहा है। इसलिए प्रशांत भूषण का जस्टिस अरुण मिश्र को उनके विरुद्ध...

लॉकडाउन पूरी तरह फेल, अब लम्बे समय तक रह सकती है कोरोना महामारी

क्या लॉकडाउन पूरी तरह फेल हो गया है? क्या लॉकडाउन के कारण कोरोना महामारी की समयावधि बहुत बढ़ गयी है? मोदी का लॉकडाउन देश में वायरस के फैलाव को रोकने के लिए, केंद्र का एक प्रमुख हथियार था जो...

मूल अधिकारों की रक्षा की अपनी संवैधानिक भूमिका में नाकाम रहा सुप्रीम कोर्ट: दुष्यंत दवे

कोरोना काल में जिस तरह उच्चतम न्यायालय की विभिन्न पीठों ने प्रवासी मजदूरों के नागरिक अधिकारों पर सरकार की दलीलों के प्रति पक्षधरता दिखाई है उसकी चतुर्दिक आलोचना पूर्व न्यायाधीश, वरिष्ठ वकील, न्यायविद और सामाजिक संगठन कर रहे हैं।...

एडवोकेट दुष्यंत दवे ने लिखा चीफ़ जस्टिस को पत्र, कहा-ग्रीष्मावकाश में दो मामलों के निपटारे से अडानी को हुआ हजारों करोड़ का लाभ

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय में भी कार्पोरेट्स के लिए अलग नियम है आम लोगों के लिए अलग। चाहे जितना महत्वपूर्ण मामला हो न्यायालय को सुनने की जल्दी नहीं होती, टालमटोल की नीति चलती है पर न्यायालय जो चाहता है...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कानून के शासन के लिए न्यायपालिका की स्वतंत्रता ज़रूरी: जस्टिस बीवी नागरत्ना

सुप्रीम कोर्ट की जज जस्टिस बीवी नागरत्ना ने शनिवार को कहा कि कानून का शासन न्यायपालिका की स्वतंत्रता पर बहुत...
- Advertisement -spot_img