Wednesday, August 10, 2022

muslim

अब मोदी लगाना चाहते हैं पसमांदा मुसलमानों में सेंध!

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कई अलग-अलग तरीकों से अपनी चुनावी ताकत बढ़ाती रही है। पार्टी को मिलने वाले वोटों का प्रतिशत बढ़ता जा रहा है। परंतु वह इससे संतुष्ट नहीं है। वह अन्य पार्टियों के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों को दलबदल...

बिहार: गाय के नाम पर मुसलमानों की गिरफ्तारी और राजनीति का बदलता रंग

दुनिया को धर्म और ज्ञान की रोशनी देने वाला और दुनिया में गणतंत्र की जननी कहे जाने वाले वैशाली जिले के हाजीपुर में बसहा बैल के साथ भिक्षाटन करते छह मुसलमानों को बजरंग दल और विश्व हिन्दू परिषद के...

गांधी अभय हैं पर सावरकर में भय है

दिल्ली स्थित गांधी दर्शन और स्मृति नामक संस्थान ने अपनी पत्रिका `अंतिम जन’ का सावरकर विशेषांक निकाला है। एक तरफ इसका चारों ओर यह कहते हुए प्रचार किया जा रहा है कि इतिहास में गांधी से कम नहीं हैं...

श्रीलंका संकट के सबक

श्रीलंका के हालिया राजनैतिक संकट ने उस देश के नागरिकों के अलावा पड़ोसी देशों बल्कि पूरे विश्व के रहवासियों का ध्यान खींचा है। वहां के घटनाक्रम को देखकर दुनिया सन्न रह गई है। श्रीलंका एक ओर मानवीय त्रासदी से...

नार्थ ईस्ट डायरी: असम में पांच मुस्लिम समूहों को मूल निवासी का दर्जा देने के पीछे है भाजपा की विभाजनकारी राजनीति 

असम कैबिनेट ने इस हफ्ते पांच मुस्लिम समूहों को मूल निवासी का दर्जा देने का फैसला किया है। राज्य के मंत्री केशब महंत ने गुवाहाटी में मीडिया को ब्रीफ करते हुए कहा कि गोरिया, मोरिया, जोल्हा, देसी और सैयद...

हिन्दू-मुस्लिम समस्या का मर्म 

पूरा देश दावानल में धूं-धूं कर जल रहा है। गरीब हिन्दू-मुसलमान दोनों जंगल में लगी भयानक आग में झुलस-झुलसकर दम तोड़ रहे हैं। बादलों का कहीं नामों निशां नहीं हैं। इंद्रदेव आंखे चुरा रहे हैं। पता नहीं ये दावानल...

उदयपुर कांड के लिए नूपुर शर्मा से अधिक समाज में फैलाया गया जहर है जिम्मेदार

नूपुर शर्मा मामले में यदि पूरे घटनाक्रम का अवलोकन करें तो सबसे पहले दोष टाइम्स नाउ चैनल का है जिसने डिबेट के लिए ज्ञानवापी से जुड़े विवाद को विषय के रूप में चुना। लेकिन मीडिया का एक हिस्सा ऐसे...

क्या उदयपुर से होगा नई समझ का उदय?

राजस्थान के उदयपुर में जो हुआ, उसके बारे में कोई लिखे भी तो क्या! इस देश की दुर्दशा कहाँ तक होगी, इसका अंदाजा लगाना ही मुश्किल है। धर्म या किसी विचारधारा के नाम पर होने वाली हिंसा मानव इतिहास...

आतंकी, जघन्य और बर्बर है उदयपुर में कन्हैया की हत्या की कार्रवाई

उदयपुर के कन्हैयालाल की हत्या आतंकी कार्रवाई है। जघन्य और बर्बर है। ऐसा करने वाले आस्था के नाम पर आहत की आड़ ले रहे हैं। उन्हें ठीक से पता है कि इससे हिंसा भड़क सकती है। ऐसा कर वे...

खाड़ी के देशों से विरोध के स्वर और भारतीय अल्पसंख्यकों के हालात

पैगम्बर मुहम्मद के बारे में नूपुर शर्मा द्वारा एक टीवी वाकयुद्ध में और नवीन जिंदल द्वारा ट्विटर के जरिये की गयी अपमानजनक टिप्पणियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों से बंदूकों, मनमानी गिरफ्तारियों और बुलडोज़रों के ज़रिये निपटा जा रहा है।...
- Advertisement -spot_img

Latest News

शिशुओं का ख़ून चूसती सरकार!  देश में शिशुओं में एनीमिया का मामला 67.1%

‘मोदी सरकार शिशुओं का ख़ून चूस रही है‘ यह पंक्ति अतिशयोक्तिपूर्ण लग सकती है पर मेरे पास इस बात...
- Advertisement -spot_img