Monday, August 15, 2022

poornima

कोई और नहीं आप खुद बनिए अपना गुरू

(गुरु पूर्णिमा के मौके पर चैतन्य नागर का आया यह लेख किन्हीं कारणों से प्रकाशित होने से रह गया था। लेकिन लेख अच्छा है इसलिए मौका बीत जाने के बाद इसे प्रकाशित किया जा रहा है-संपादक) दो दिन पहले गुरु...

असहिष्णुता के समय में तथागत की देशना

आज बुद्ध पूर्णिमा है। पूर्णिमा के दिन ही बुद्ध का जन्म हुआ, पूर्णिमा के दिन ही निर्वाण (निब्बान), और पूर्णिमा के ही दिन देहावसान। निब्बान का सरल, सीधा अर्थ उन्होंने बताया था दुःख-ध्वंस या दुःख की समाप्ति। व्यक्तिगत और...

बुद्ध पूर्णिमा पर विशेष: बुद्ध धम्म और भारत में प्रतिरोध की बहुजन-श्रमण प्रगतिशील परंपरा

मार्क्स ने कहा था "अब तक विद्यमान सभी समाजों का लिखित इतिहास वर्ग संघर्ष का इतिहास है।" यह वर्ग-संघर्ष विचारों के संघर्ष के रूप में भी मुखर रूप से सामने आता है। भारत में वर्ग-संघर्ष ने खुद को वर्ण-संघर्ष...
- Advertisement -spot_img

Latest News

जश्न और जुलूसों के नाम थी आज़ादी की वह सुबह

देश की आज़ादी लाखों-लाख लोगों की कु़र्बानियों का नतीज़ा है। जिसमें लेखक, कलाकारों और संस्कृतिकर्मियों ने भी अपनी बड़ी...
- Advertisement -spot_img