Sunday, August 14, 2022

Rebellion

हूल दिवस पर विशेष: आदिवासियों को बदहाली से निजात दिलाने के लिए एक और हूल व उलगुलान की जरूरत

झारखंड के आदिवासियों का अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ बगावत का लंबा इतिहास है। इतना ही नहीं आजादी के बाद भी झारखंड अलग राज्य को लेकर लंबे संघर्ष से जो राज्य हासिल हुआ है उसमें कुछ चतुर चालाक लोगों को छोड़...

दो राहे पर प्रीतम सिंह, जायें तो जायें कहा?

राजनीति की एक अजीब सी दुनिया है जहां न तो कोई किसी का स्थायी दोस्त होता है और न ही स्थायी दुश्मन। अब तो राजनीति में कोई स्थाई ठिकाना भी नहीं रह गया है। घर का रखवाला घर को...

इतिहास की बेईमानी का शिकार हो गया अंग्रेजी सत्ता के खिलाफ आदिवासी-दलित नायकों का चुहाड़ विद्रोह

अंग्रेजों के विरुद्ध चुहाड़ विद्रोह के नायक रघुनाथ महतो का जन्म पुराने समय के बंगाल के जंगल महल (छोटानागपुर) अंतर्गत मानभूम जिले के नीमडीह प्रखंड के एक छोटे से गांव घुंटियाडीह में हुआ था। उनकी पैदाइशी की तारीख 21...

नॉर्थ ईस्ट डायरीः बिप्लब कुमार देब के खिलाफ भाजपा के अंदर तेज हो रही है बगावत

त्रिपुरा के उप मुख्यमंत्री जिष्णु देव वर्मा ने कहा कि अगरतला में 13 दिसंबर को निर्धारित मुख्यमंत्री का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है। कुछ दिन पहले सीएम बिप्लब कुमार देब ने कहा था कि वह 13 दिसंबर को...

पाटलिपुत्र की जंगः बागियों ने उड़ाई नीतीश की नींद

बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। सभी दल पूरी तरह से चुनावी समर में उतर चुके हैं। यह चुनाव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए कड़ी परीक्षा है। नीतीश कुमार जहां गत चुनाव में अपनी मुख्य विपक्षी पार्टी...

माली में सेना का विद्रोह, बंधक बनाए जाने के बाद राष्ट्रपति का इस्तीफा

विद्रोहियों द्वारा बंधक बनाए जाने और तख्तापलट की कोशिश के बाद माली का राष्ट्रपति ने पद से इस्तीफा दे दिया है। राष्ट्रपति ने इस्तीफा देते हुए कहा, “उनके पास ख़ूनखराबा रोकने के लिए बहुत कम विकल्प थे। नेशनल एसेंबली...

चंद्रकांत देवताले की पुण्यतिथिः ‘हत्यारे सिर्फ मुअत्तिल आज, और घुस गए हैं न्याय की लंबी सुरंग में’

हिंदी साहित्य में साठ के दशक में नई कविता का जो आंदोलन चला, चंद्रकांत देवताले इस आंदोलन के एक प्रमुख कवि थे। गजानन माधव मुक्तिबोध, नागार्जुन, शमशेर बहादुर सिंह, केदारनाथ अग्रवाल जैसे कवियों की परंपरा से वे आते थे।...

शाहीन बाग की महिलाओं ने बाग के मानी बगावत कर दिया

शहंशाह को बागों से बहुत शिकायत है उसने अपनी डायरी में लिख लिया बाग के माने बगावत हैं @सोनी पांडेय  आज (26 जनवरी, 2020) जब राजधानी के राजपथ पर सैन्य बल के  प्रदर्शन से देश के 70वें गणतंत्र का उत्सव मानाया जा...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कार्पोरेट्स के लाखों करोड़ की कर्जा माफ़ी क्या रेवड़ियां नहीं हैं मी लार्ड!

उच्चतम न्यायालय ने अभी तक यह तय नहीं किया है कि फ्रीबीज या रेवड़ियां क्या हैं, मुफ्तखोरी की परिभाषा क्या है? सुप्रीम...
- Advertisement -spot_img