Wednesday, August 10, 2022

suneelam

मुझ पर 12 बार जानलेवा हमले हुए, पर किसी हमलावर को जेल नहीं काटनी पड़ी: डॉ सुनीलम

देशभर में सत्तारूढ़ दल का विरोध कर रहे सामाजिक कार्यकर्ताओं, राजनीतिक नेताओं, पत्रकारों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं अर्थात सार्वजनिक जीवन में सक्रिय व्यक्तियों पर आए दिन हमलों की घटनाएं अखबारों में प्रकाशित होती रहती हैं। हमलावरों को सजाएं मिलने की...

आपातकाल की 46 वीं वर्षगांठ पर: मोदी के सुपर आपातकाल से मुक्ति के रास्तों पर विचार का वक्त

देश आपातकाल से गुजर रहा है। इससे देश के आम नागरिक सहमत हैं क्योंकि वे इसे भुगत रहे हैं। लेकिन मोदी भक्त और गोदी मीडिया असहमत है क्योंकि उन्हें इस आपातकाल का लाभ मिल रहा है। यह लेख इंदिरा गांधी के...

26 नवंबर से 26 मई तक 6 माह के किसान आंदोलन का सफरनामा

आज संयुक्त किसान मोर्चा की अपील पर लाखों गांवों और मोहल्लों में नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया तथा कश्मीर से कन्याकुमारी तक करोड़ों किसानों और मज़दूरों ने काले झंडे लगाकर विरोध-प्रदर्शन किए। आखिर क्यों? 26 नवंबर से शुरू किसान...

डॉ. सुनीलम, एक आंदोलनकारी की डायरी

मेरे लिए 2020 का वर्ष सिखाने वाला और ज्ञानवर्धक रहा। यह वर्ष जन आंदोलनों के नाम रहा। इस वर्ष की शुरुआत नागरिक संशोधन कानून के खिलाफ संघर्ष से हुई तथा अनिश्चितकालीन किसान आंदोलन के साथ 2020 खत्म हो गया। पिछले...

सु्प्रीम कोर्ट के अन्याय के शिकार 48 हजार झुग्गीवासियों को फिर जरूरत है एक वीपी सिंह की!

सर्वोच्च न्यायालय ने दिल्ली के भीतर 70 किलोमीटर रेलवे ट्रैक के आस-पास 48 हजार झुग्गी- झोपड़ियों को 3 महीने में हटाने के निर्देश 31 अगस्त को जारी कर दिए हैं। फैसले की जानकारी मिलने के बाद से मैं जब...
- Advertisement -spot_img

Latest News

शिशुओं का ख़ून चूसती सरकार!  देश में शिशुओं में एनीमिया का मामला 67.1%

‘मोदी सरकार शिशुओं का ख़ून चूस रही है‘ यह पंक्ति अतिशयोक्तिपूर्ण लग सकती है पर मेरे पास इस बात...
- Advertisement -spot_img