Friday, December 2, 2022

छत्तीसगढ़ के चरोदा बस्ती में बच्चा चोरी के शक में 3 साधुओं को भीड़ ने बेरहमी से पीटा

Follow us:

ज़रूर पढ़े

दुर्ग, छत्तीसगढ़। छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिला अंतर्गत चरोदा बस्ती में तीन साधुओं की जनता ने पिटाई की है। स्थानीय लोगों के मुताबिक तीनों साधु बच्चा चोरी करना चाहते थे। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस ने पहुंचकर स्थिति को संभाला और तीनों साधुओं को भीड़ के चंगुल से बचाकर अस्पताल में दाखिल किया। फिलहाल पुलिस साधुओं के बयान दर्ज कर रही है। 

सामने आए वीडियो में दिख रहा है कि बस्ती के लोगों ने 3 साधुओं को घेर रखा है। तीनों साधुओं की लोग लात घूसे और हाथों से जमकर पिटाई कर रहे हैं। इस दरमियान एक पुलिसकर्मी साधुओं को बचाने की कोशिश कर रहा है। लेकिन भीड़ पुलिस को भी नहीं छोड़ रही है। पुलिस को भी भीड़ खींचने लगती है। इस पिटाई से साधु बुरी तरह से घायल हो गए। घटना की सूचना मिलते ही दूसरे पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंचकर साधुओं को थाने ले गए और उनका ईलाज करवाया।पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर पूछताछ में जुटी है।

पुलिस के मुताबिक “चरोदा क्षेत्र में तीन साधु आ रहे थे। उसी दौरान किसी ने शोर मचाना शुरू किया कि ये तीनों साधु बच्चा चोरी करते हैं। इसके बाद स्थानीय लोगों ने साधुओं को रोककर पूछताछ शुरू की। इससे पहले साधु कुछ समझ पाते कुछ देर में वहां और भीड़ इकट्ठा हुई और साधुओं को पीटने लगी। इस दौरान साधुओं को लाठी और डंडों से मारा गया। इस मारपीट में एक साधु का सिर फट गया। साधु की पिटाई की खबर पुलिस को दी गई। मौके पर पुलिस पहुंची और घायल साधुओं समेत दूसरे साधु को एक ऑटो में बैठाकर अस्पताल ले जाया गया। 

सूत्रों के मुताबिक कुछ लोग शराब पीकर दशहरा की पार्टी कर रहे थे। उसी रास्ते से साधु गुजरे। इसी दौरान उनमें से एक ने खड़े होकर बच्चा चोर का हल्ला किया। बाद में इन्हीं शराबियों ने साधुओं की पिटाई करनी शुरू की।

Screenshot 2022 10 06 at 7.17.48 PM

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार साधु राजस्थान के अलवर के रहने वाले हैं।इनका नाम राजबीर सिंह, अमन सिंह और श्याम सिंह है।ये साधु चरोदा क्षेत्र में ही मकान किराए पर लेकर रह रहे थे। इस दौरान ये लोगों से राशन और कपड़े मांगकर अपना जीवन यापन कर रहे थे। वहीं शुरुआती जांच में किसी भी तरह की कोई संदिग्ध गतिविधि इन साधुओं के पास से नहीं मिली है। अब पुलिस इस बात में जुटी है कि आखिर इतने दिनों से एक क्षेत्र में रह रहे साधुओं पर बच्चा चोरी का आरोप लगाकर उनकी पिटाई क्यों की गई है।

आपको बता दें कि कुछ दिन पूर्व खुर्सी पार पुलिस ने बच्चा चोर गिरोह के 5 सदस्यों को गिरफ्तार किया था। जिसमें 4 महिलाएं और एक पुरुष शामिल था। ये सभी मध्य प्रदेश शहडोल के रहने वाले थे। 

साधुओं के पास नहीं मिला परिचय पत्र

राजस्थान से दुर्ग आए साधुओं ने चरोदा बस्ती भिक्षा मांगने पहुंचे थे। जहां साधु एक बच्चे से बातचीत कर रहे थे। इस दौरान ग्रामीणों ने बच्चा चोर होने के शक में उन साधुओं की जमकर पिटाई कर दी। पिटाई से तीनों साधु गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें पुलिस अस्पताल में ईलाज के लिए ले गयी। बहरहाल पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर वायरल वीडियो के आधार पर 25 से 30 लोगों से पूछताछ कर रही है।

(छत्तीसगढ़ से जनचौक संवाददाता तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

डीयू कैंपस के पास कैंपेन कर रहे छात्र-छात्राओं पर परिषद के गुंडों का जानलेवा हमला

नई दिल्ली। जीएन साईबाबा की रिहाई के लिए अभियान चला रहे छात्र और छात्राओं पर दिल्ली विश्वविद्यालय के पास...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -