Friday, August 12, 2022

sten

भारत में लोगों के अधिकारों में भयानक कटौती; आलोचकों, मुसलमानों और संकटग्रस्त समूहों पर हमले बढ़े: ह्यूमन राइट्स वाच रिपोर्ट

न्यूयॉर्क। ह्यूमन राइट्स वॉच ने बुधवार को अपनी विश्व रिपोर्ट 2022 में कहा कि भारतीय सरकारी तंत्र ने 2021 में राजनीतिक रूप से प्रेरित अभियोजनों का इस्तेमाल कर कार्यकर्ताओं, पत्रकारों और सरकार के दूसरे आलोचकों पर अपनी दमनात्मक कार्रवाई तेज कर दी है। भारत में...

क्या स्टेन स्वामी के बाद सत्ता अब गौतम नवलखा को चाहती है मौत के घाट उतारना?

मीडिया के अनुसार अब 70 वर्षीय सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार गौतम नवलखा को नवी मुंबई के तलोजा जेल के सामान्य कैदियों वाली बैरक से गंभीर,बड़े अपराध करने वाले और शातिर कैदियों को रखे जाने वाले अंडा सेल की एकदम...

फॉदर स्टेन स्वामी: संत जिसकी सलाखों के पीछे हत्या कर दी गयी

अपनी गिरफ्तारी के दो दिन पहले रिकार्ड करवाए गए एक वीडियो संदेश में फॉदर स्टेन स्वामी ने कहा था, "मैं मूकदर्शक नहीं रहूंगा और भारत के सत्ताधारियों से असहमति व्यक्त करने और उन पर प्रश्न उठाने की जो भी...

दुनिया भर में कहा जा रहा है स्टेन की हत्या सत्ता प्रायोजित: दीपंकर

रांची। सभी गैर भाजपा राजनीतिक दलों और सामाजिक जन संगठनों ने 9 जुलाई को महेंद्र सिंह भवन, रांची में आयोजित संकल्प सभा में जन अधिकारों की मुखर आवाज़ फादर स्टेन स्वामी की न्यायिक हिरासत में हुई मौत के खिलाफ...

भूखे आदिवासियों की आवाज़ को उठाने के बदले स्टेन स्वामी को मिली प्यासे मरने की सजा

भात भात कहकर भूख से मरने वाली संतोषी जैसी अनगिनत आदिवासी बच्चियों व लोगों के अधिकारों के लिये आवाज़ उठाने वाले स्टेन स्वामी की पानी के लिये तरसते हुये कल दोपहर मौत हो गयी। ये कितनी क्रूर सरकार है...

स्टेन स्वामी की मौत सांस्थानिक हत्या! पटना में नागरिकों ने मार्च निकाल कर दी श्रद्धांजिल

पटना। 84 वर्षीय जेश़ूइट सामाजिक कार्यकर्ता फादर स्टेन स्वामी की कस्टडी में की गई सांस्थानिक हत्या के खिलाफ आज पटना के नागरिकों ने 'हम पटना के लोग' बैनर से प्रतिवाद दर्ज किया और उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी। पटना...

स्टेन स्वामी की मौत से नंगा हो गया है केन्द्र सरकार का फ़ासीवादी चेहरा

विगत 5 जुलाई 2021 को होली फैमली अस्पताल मुंबई में दिन के 1:30 बजे स्टेन स्वामी ने अंतिम सांस ली। इस दौरान मुंबई हाई कोर्ट में स्टेन स्वामी की अंतरिम जमानत की सुनवायी चल रही थी। उसी समय अस्पताल...

स्टेन स्वामी की मौत ने फिर साबित किया भारत में न कोई मानवाधिकार है और न ही न्याय व्यवस्था

एल्गार परिषद के कई सदस्यों और जाने-माने दलित अधिकार और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को अलग-अलग समय पर देश के अलग-अलग कोनों से गिरफ़्तार किया गया और उन पर 'प्रधानमंत्री की हत्या की साज़िश' और 'देश की एकता और अखंडता को...

आखिर कौन है फादर स्टेन स्वामी की हत्या का जिम्मेदार?

फादर स्टेन स्वामी की अंतरिम जमानत की सुनवाई पूरी होने से पहले ही उनकी मौत हो गई । 84 वर्ष की उम्र तक पूरा जीवन आदिवासियों के बीच सेवा और संघर्ष करते हुए बिताने के बाद उन्हें यूएपीए के तहत राष्ट्रद्रोही...

स्टेन स्वामी के खून से रंग गया है सरकार और अदालतों का दामन!

मानवाधिकार कार्यकर्ता स्टे्न स्वामी के निधन के समाचार ने सारी दुनिया को हिला के रख दिया है। ऐसी निर्ममता कभी मुस्लिम और अंग्रेज शासकों ने भी नहीं की। जिस तरह झूठी और क्रूरतम  भारत सरकार ने आज अपने अड़ियल...
- Advertisement -spot_img

Latest News

मछुआरों को भारत-पाकिस्तान शत्रुता में बंधक नहीं बनाया जा सकता

“यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि ऐसे समय में जब पाकिस्तान और भारत आजादी के 75 वें वर्ष का जश्न मना...
- Advertisement -spot_img