Monday, August 15, 2022

ससंद के दोनों सदनों में रही नगालैंड जनसंहार कांड की गूंज, अमित शाह दोनों सदनों में देंगे बयान

ज़रूर पढ़े

नगालैंड हिंसा मामले पर लोकसभा व राज्यसभा में विपक्ष के गतिरोध के चलते दोनों सदनों को पहले 12 बजे तक के लिये और दोबारा 2बजे तक के लिये स्थगित कर दिया गया है। विपक्षी सांसद नगालैंड मामले पर सरकार के बयान की मांग कर रहे थे, साथ ही इस पर विस्तृत रिपोर्ट चाहते हैं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह लोकसभा में तीन और राज्यसभा में चार बजे नगालैंड जनसंहार कांड पर बयान देंगे।

नगालैंड में हुई गोलीबारी और एक दर्जन से ज्यादा ग्रामीणों की मौत मामले पर सदन में चर्चा के लिए कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी और मणिकम टैगोर ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है। इसके अलावा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भी स्थगन प्रस्ताव नोटिस भेजा है।

आज सदन की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने नगालैंड में नागरिकों की हत्या का मुद्दा उठाया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि नगालैंड की घटना बहुत ही संवेदनशील घटना है। ऐसा नहीं होना चाहिए था। हम मांग करते हैं कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह घटना पर अपना विस्तृत विवरण दें।उन्हें जवाब देना चाहिए कि ऐसा क्यों हुआ।

नगालैंड से एनडीपीपी सांसद टी. येप्थेमी ने लोकसभा में कहा कि नगालैंड हिंसा मामले की जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पीड़ित परिवारों को पांच-पांच लाख रुपये का मुआवजा दिया है। केंद्र सरकार को भी प्रभावित परिवारों को पर्याप्त मुआवजा देना चाहिए।

वहीं ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के चीफ असदुद्दीन ओवैसी और आरजेडी के सांसद मनोज झा ने संसद में चर्चा की मांग की है। बता दें कि कल नगालैंड में एक जवान समेत 15 लोगों की मौत हो गई है। सेना और राज्य सरकार इस मामले की जांच कर रही हैं।
नगालैंड के मोन जिले में कथित सैन्य गोलीबारी की घटना में मारे गए और घायल हुए लोगों के परिवारों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए तृणमूल कांग्रेस का पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल आज राज्य का दौरा करेगा। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने नगालैंड में हुई घटना की गहन जांच की मांग की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद पहुंच चुके हैं। वे सरकार के कई वरिष्ठ मंत्रियों के साथ नगालैंड घटना के अलावा विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर रहे हैं। इसके साथ ही वे आगे की रणनीति पर भी बैठक कर रहे हैं। इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण समेत कई केंद्रीय मंत्री मौजूद हैं।

अमित शाह दोनों सदनों में नगालैंड कांड पर देंगे बयान

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सोमवार को निचले सदन को सूचित किया कि गृह मंत्री अमित शाह नगालैंड की घटना पर बयान देंगे। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा, गृह मंत्री ने मुझे लिखित में कहा था कि वह सदन में बयान देंगे।

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि यह एक संवेदनशील मुद्दा है और गृह मंत्री सोमवार को ही बयान देंगे। जोशी ने कहा, यह एक संवेदनशील और महत्वपूर्ण मुद्दा है और गृह मंत्री विस्तृत बयान देंगे।

सूत्रों ने बताया कि अमित शाह दोपहर तीन बजे लोकसभा में और लगभग 4 बजे राज्यसभा में बयान देंगे।

नगालैंड के मोन जिले में शनिवार को हुई हिंसक झड़पों में कम से कम 13 नागरिक मारे गए और असम राइफल्स का एक जवान शहीद हो गया और 14 अन्य घायल हो गए। ग्रामीणों और सूत्रों ने कहा कि माना जाता है कि सुरक्षा कर्मियों ने पीड़ितों को नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड-खापलांग-युंग आंग का सदस्य समझ लिया और उन पर गोलियां चला दीं। गुस्साए स्थानीय लोगों ने सुरक्षा बलों पर हमला किया और कम से कम तीन वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

राज्यसभा से पूरे सत्र के लिए निलंबित किए गए 12 सांसदों के समर्थन में विपक्ष का प्रदर्शन आज भी जारी है। पार्टी के सांसद गांधी प्रतिमा के सामने निलंबन के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। विपक्षी पार्टी के नेताओं का कहना है कि सरकार को 12 सांसदों का निलंबन वापस लेना ही होगा। वहीं राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जब तक सांसदों का निलंबन वापस नहीं लिया जाता, प्रदर्शन जारी रहेगा।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने संसद टीवी शो ‘टू द प्वाइंट’ की मेजबानी न करने का फैसला किया है। उनका कहना है कि जब तक 12 सांसदों का निलंबन वापस नहीं लिया जाता, जब तक वे इस शो की मेजबानी नहीं करेंगे। उन्होंने कहा है कि -” राज्यसभा के 12 सदस्यों का निलंबन रद्द होने और संसद की कार्यवाही में द्विदलीय भावना प्रतिबिंबित होने तक वह ‘संसद टीवी’पर कार्यक्रम की मेजबानी नहीं करुंगा।”

इससे पहले शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने रविवार को कहा कि उन्होंने संसद टीवी के कार्यक्रम ‘मेरी कहानी’ की एंकरिंग नहीं करने का फैसला किया है।चतुर्वेदी राज्यसभा की उन 12 सदस्यों में शामिल हैं, जिन्हें सदन में खराब आचरण के कारण हाल में निलंबित कर दिया गया था। गौरतलब है कि 12 विपक्षी सांसदों को अगस्त में पिछले मॉनसून सत्र के दौरान उनके खराब आचरण के कारण सोमवार को संसद के पूरे शीतकालीन सत्र के लिए राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया था। इनमें कांग्रेस के छह, तृणमूल कांग्रेस और शिवसेना के दो-दो, और भाकपा तथा माकपा के एक-एक सदस्य शामिल हैं।

(जनचौक के विशेष संवाददाता सुशील मानव की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

आज़ादी के बाद भी आज़ादी के लिए लड़ते रहे, सरहदी गांधी

"आपने हमें भेड़ियों के आगे फेंक दिया।” बंटवारे की खबर मिलने के बाद, यह गंभीर और कड़ी प्रतिक्रिया, थी...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This